पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बदलती शिक्षा पद्धति:शिक्षकों को दे रहे ऑनलाइन प्रशिक्षण ताकि वे बच्चों को पढ़ा सकें

नीमचएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सरकारी स्कूल में पदस्थ जिलेभर के 550 शिक्षकों को ऑनलाइन शिक्षा के लिए दे रहे प्रशिक्षण

भोपाल से ट्रेनिंग लेकर आए शिक्षक प्रशिक्षक बनकर अलग-अलग विषय के कक्षा 9 से 12वीं तक के जिलेभर के सरकारी स्कूलों में कार्यरत 550 शिक्षकों को ट्रेनिंग दे रहे हैं। शिक्षकों को सिखाया जा रहा है कि स्कूल खुलने के बाद नई शिक्षा पद्धति के अनुसार कैसे पढ़ाना है। काेविड-19 के कारण बदली हुई परिस्थितियों में व्यक्तिगत रूप से फेस टू फेस प्रशिक्षण वर्तमान स्थिति में संभव नहीं लग रहा है। विभाग ने ऑनलाइन प्रशिक्षण कराने का निर्णय लिया। जिले में शिक्षकों के लिए विषय वार ऑनलाइन प्रशिक्षण दे रहे हैं। इसे शैक्षणिक प्रशिक्षण का नाम दिया है। यह प्रशिक्षण सत्र प्रतिमाह आयोजित कराए जाएंगे। अगस्त का प्रशिक्षण 11 अगस्त से शुरू हुआ है जो 17 तारीख तक चलेगा। संचालनालय द्वारा टाइम टेबल तैयार किया गया है। कार्यक्रम शुरू करने से पहले जिला शिक्षा अधिकारी केएल बामनिया, अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक प्रलय उपाध्याय द्वारा प्रशिक्षण का उद्ेश्य, हमारा घर हमारा विद्यालय कार्यक्रम की समीक्षा की जिससे प्रशिक्षण में किसी प्रकार की कमी नहीं रहे। इस बारे में कुछ विद्यार्थियों से सुझाव लिए गए। प्रशिक्षण की स्कूल के प्राचार्य मॉनीटरिंग करेंगे। जिससे किसी भी तरह की परेशानी को दूर किया जा सके। शिक्षकों के प्रशिक्षण के लिए ढाई घंटे का समय तय है। ट्रेनिंग के दौरान साप्ताहिक टेस्ट भी होंगे। शिक्षकों से कहा है कि ऑनलाइन डीजीलेप के माध्यम तथा दूरदर्शन के माध्यम से छात्र-छात्राओं को अध्यापन कराया जा रहा है। उसका रिकॉर्ड अपने पास रखें। रोज 5-10 छात्रों से बात करें। उन्हें ऑनलाइन शिक्षण पढ़ाई के लिए प्रेरित करें तथा अधिक से अधिक शिक्षक गूगल मीट, माइक्रोसॉफ्ट टिम्स, सिसको वेबैक्स सॉफ्टवेयर के माध्यम से संचालित करें।

सभी शिक्षकों को ऑनलाइन का प्रशिक्षण लेना है
यह ऑनलाइन प्रशिक्षण सभी शिक्षकों को लेना अनिवार्य है। उसकी दूसरी जगह कहीं ड्यूटी है तो वहां उसे मोबाइल के माध्यम से शामिल होना है। शिक्षकों से फीडबैक फॉर्म भी भरवाया जा रहा है। बिना किसी उचित कारण के प्रशिक्षण लेने वाले शिक्षकों पर नियमानुसार कार्रवाई होगी। अब तक हिंदी के 109, गणित के 104, संस्कृत के 82, विज्ञान के 84, बॉयलोजी के 21, केमेस्ट्री के 18 व फिजिक्स के 21 शिक्षक प्रशिक्षण ले चुके हैं।

ऑनलाइन विषयवार प्रशिक्षण दिया जा रहा
^शासन के निर्देशानुसार शिक्षकों के प्रशिक्षण के लिए टाइम टेबल बनाया है उसी हिसाब से कार्यक्रम चल रहा है। हमने सभी शिक्षकों से कहा है कि पांच से 10 छात्रों से रोज फीडबैक लें। उन्हें ऑनलाइन शिक्षण पद्धति के लिए प्रेरित करें। शिक्षकों का वॉट्सएप ग्रुप भी बनाया है, जिस पर शिक्षक समस्या या अपना सुझाव रख सकते हैं।
प्रलय कुमार उपाध्याय, अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक, नीमच

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें