पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

टीकाकरण:154 दिन में 21.52% को ही लगा पहला डोज, ऐसे तो 100% आबादी को लगाने में लग जाएंगे 2 साल

नीमचएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना से बचाव के लिए काफी हद तक वैक्सीनेशन ही एक विकल्प है। जिसकी कमी के चलते अभी तक इसकी रफ्तार उतनी नही है जितनी होना चाहिए। अभी करीब 21.52 फीसदी आबादी को ही पहली डोज लगी है। दूसरे डोज लगवाने वालों का आंकड़ा 3.53 प्रतिशत ही है।

नीमच जिले में 16 जनवरी से अब तक 154 दिनों के बीच कुल 1 लाख 36 हजार 701 डोज लगे है। यानी रोजाना औसत 887 टीके लगाए गए। यही स्थिति रही तो आगामी 715 दिनों यानी 1 साल 11 माह 15 दिन में जिले की 100 फीसदी आबादी को पहली डोज लग सकेगी। मौजूदा स्थिति स्थिति में जिला प्रशासन व चिकित्सा विभाग का मानना है कि नीमच में कुल आबादी में से 18 से अधिक उम्र के लोगों की संख्या 4 लाख 92 हजार 434 है।
नहीं मिल रही पर्याप्त वैक्सीन- जिले में टीकाकरण के लिए अभी कोविशील्ड व कोवैक्सीन का उपयोग किया जा रहा है। जिनका राज्य व केंद्र से अलग-अलग स्टॉक आयु वर्ग के लाभार्थियों के अनुसार दिया जाता है। इसकी आपूर्ति मांग के अनुसार पर्याप्त नहीं हो रही है। जिसके चलते कई बार टीकाकरण 4 दिन तक भी लगातार बंद करने की स्थिति बनी। इसी कारण इसकी रफ्तार में कमी आई है।

दो अलग-अलग वैक्सीन लगने से भी प्रभावित हो रहा है अभियान, इनकी कमी के चलते कई बार बंद हुआ टीकाकरण

दूसरे डोज लगवाने नहीं पहुंच रहे कई लोग
जिन लोगोें को वैक्सीन का पहला डोज लग चुका है और दूसरे डोज के लिए निर्धारित समय भी पूरा हो गया है फिर भी कई लोग नहीं लगवा रहे है। इसके लिए विभाग को ऐसे लोगों को फोन करके बुलाना पड़ रहा है फिर भी वे केंद्रों पर नहीं पहुंच रहे है। स्थिति यह है कि एक केंद्र पर दूसरे डोज के लिए 150 लोग स्लॉट बुक कर रहे है तो केंद्र पर 45 ही पहुंचते है। स्लॉट बुक करने के बाद भी कई लोग नहीं आते है।
21 से चलेगा टीकाकरण का विशेष अभियान
21 जून से टीकाकरण को लेकर विशेष अभियान चलाने की तैयारी शुरू हो गई है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग अब स्टाफ नर्स को भी टीके लगाने का प्रशिक्षण दे रहा है। शुक्रवार को शहर के महिला बस्ती गृह केंद्र पर विभाग के कोल्ड चैन मैनेजर विजय बड़ोने, सुपरवाइजर दिनेश उइके ने नर्सिंग स्टाफ को प्रशिक्षण दिया। इस दौरान उन्होंने वैक्सीन वाॅयल खोलने से लेकर टीके लगाने और हितग्राही को संदेश देने की पूरी प्रक्रिया को विस्तार से समझाया।

जिले में श्रेणी वार कुल आबादी और अब तक वैक्सीनेशन की स्थिति

जिले को अब तक मिले 1.58 लाख वैक्सीन के डोज- जिले में वैक्सीनेशन के लिए अब तक 1 लाख 58 हजार 20 वैक्सीन के डोज मिले है। इनमें से सबसे ज्यादा कोविशील्ड के 1 लाख 41 हजार 840 और कोवैक्सीन के 16 हजार 180 डोज शामिल है। जिनसे पहला व दूसरा मिलाकर 1 लाख 59 हजार 120 टीके लगाए जा चुके है। अब वर्तमान में अभी 120 डोज स्टॉक में मौजूद है।

स्लॉट बुकिंग में 18+ वालों को आ रही है परेशानी
5 मई से जिले में 18 से 44 साल तक के लोगों को वैक्सीनेशन शुरू हुआ। इसके लिए पहले रजिस्ट्रेशन और फिर स्लॉट बुकिंग कराना जरूरी है। जिसमें सबसे ज्यादा समस्या स्लॉट बुकिंग को लेकर हुई। टीकाकरण सत्र के एक दिन पहले या कुछ घंटे पहले स्लॉट बुकिंग की लिंक खोली जाती है जो कुछ ही सैकंड में फुल होने के कारण कई लोगों को परेशान होना पड़ा। अभी भी ऐसे कई लोग है जो स्लाॅट बुक नहीं होने से अभी तक टीका नहीं लगवा पाए है।

10 दिनों में 20 हजार टीके लगाने का लक्ष्य
जिले में विश्व योग दिवस यानी 21 जून से टीकाकरण अभियान शुरू किया जा रहा है जो 30 जून तक चलेगा। इस अभियान के तहत जिले का 20 हजार लक्ष्य निर्धारित किया है। जिसके लिए शहरों व ग्रामीण क्षेत्रों में सेंटरों की संख्या बढ़ाकर रोज 2 हजार टीके लगाकर लक्ष्य की पूर्ति की जाएगी। इसमें शहर के सभी केंद्रों पर ऑनलाइन बुकिंग के बाद ही टीके लगेंगे।

खबरें और भी हैं...