सुविधा / पक्षकारों व अधिवक्ताओं को केस की जानकारी ऑनलाइन मिलेगी

जिला न्यायालय में ई सेवा केंद्र का शुभारंभ करते डीजे श्रीवास्तव। जिला न्यायालय में ई सेवा केंद्र का शुभारंभ करते डीजे श्रीवास्तव।
X
जिला न्यायालय में ई सेवा केंद्र का शुभारंभ करते डीजे श्रीवास्तव।जिला न्यायालय में ई सेवा केंद्र का शुभारंभ करते डीजे श्रीवास्तव।

  • जिला न्यायालय परिसर में डीजे हृदेश श्रीवास्तव ने ई-सेवा केंद्र का किया शुभारंभ
  • पक्षकारों को कोर्ट में नहीं भटकना पड़ेगा

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

नीमच. अदालतों में चलने वाले मामलों की प्रक्रिया को अब कंप्यूटराइज और पेपरलेस किया जा रहा है। उच्च न्यायालय के आदेश पर शुक्रवार को जिला न्यायालय में भी ई-सेवा केंद्र शुरू का शुभारंभ जिला एवं सत्र न्यायाधीश हृदेश श्रीवास्तव ने किया। उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से पक्षकारों व अधिवक्ताओं को अपने केस की जानकारी मिल जाएगी। केस तारीख, किस कोर्ट में है, उसका स्तर और खास बात जेल में कैदियों से मुलाकात भी हो सकेगी। इसके लिए संबंधित तो जिस कोर्ट में केस चल रहा उसके नाम से आवेदन करना होगा। अपवादिक परिस्थिति में अनुमति देने के साथ वीसी के माध्यम से मुलाकात कराई जा सकेगी। ऑनलाइन नकल का आवेदन भी दिया जा सकता है। केंद्र पर सभी तरह की सेवा उपलब्ध होने से पक्षकारों को कोर्ट में कहीं भटकना नहीं पड़ेगा। केंद्र पर आए जानकारी ले और दस्तावेज पेश करें। उसकी पूरी प्रक्रिया यहां मौजूद सिस्टम ऑफिसर करेंगे। विशेष न्यायाधीश आरपी शर्मा, प्रधान न्यायाधीश अखिलेश शुक्ला, एडीजे जसवंत यादव, विवेक कुमार मौजूद थे। 

वीडियो कॉन्फ्रेंस से अधिवक्ता पैरवी कर सकते- ई-सेवा केंद्र प्रभारी एडीजे अजयसिंह ठाकुर ने बताया लॉकडाउन में वकीलों को अपने केस के लिए कोर्ट में आने की जरूरत नहीं हैं। वे अपना पक्ष सही तरीके से कोर्ट के समक्ष रख सकें, इसके लिए अब ‘जितसी एप’ के जरिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बहस करने की व्यवस्था लागू की है। इसके लिए वकीलों से प्ले स्टोर से यह एप डाउनलोड करने का भी आग्रह किया है। किसी कारण से इस एप से सुनवाई नहीं होने पर वॉट्सएप से वीडियो कॉल के जरिए सुनवाई होगी। कोर्ट में वीसी के लिए तीन रूम स्थापित किए हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना