पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

रूठा मानसून:तीन साल में इस बार सावन सबसे ज्यादा सूखा गुजरा, भादौ से उम्मीद

नीमच2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पिछले साल अब तक 548.1 मिली बारिश हो चुकी थी, इस मौसम में 1 जून से अब तक 297.3 मिमी बारिश ही हुई है

तीन साल में इस साल बारिश के मौैसम में 4 अगस्त तक सबसे कम बारिश दर्ज की है। पिछले साल जहां अब तक 548.1मिली बारिश हो चुकी थी, वहीं इस मौसम में 1 जून से अब तक 297.3 मिमी बारिश हुई है। जुलाई में 152.3मिमी बारिश हुई, यह 12 दिनों में खंड-खंड में हुई, जिससे फसलों पर ज्यादा असर पड़ा है। कुछ क्षेत्रों में तो किसानों को दोबारा बोवनी करनी पड़ी तो, कई जगह फसल की ग्रोथ पर असर पड़ा है। जिले में इस बार बारिश ने किसान से लेकर हर वर्ग को निराश किया है। जिले के प्रमुख जलाशयों में पिछले साल के मुकाबले कम पानी है। पिछले साल जुलाई के मध्य से आवक शुरू हो गई थी। इस बार ऐसा कुछ नजर नहीं आ रहा है, जिससे किसान निराश है। इस वर्ष जून में जिस प्रकार बारिश की शुरुआत हुई थी, उससे लगा था कि इस साल अच्छी बारिश होगी, लेकिन जुलाई में बारिश की खेंच ने किसानों का गणित बिगाड़ दिया। सावन होने से भी लोगों को उम्मीद थी, कि पूरे माह रिमझिम तो कभी तेज बारिश होगी। पिछले 10 साल का रिकॉर्ड देखे तो जुलाई में अच्छी बारिश होती है, लेकिन इस साल जुलाई में 152.3 मिमी बारिश हुई है, जो पिछले साल जुलाई के मुकाबले 227.2मिमी कम बारिश है। दूसरी तरफ मोरवन से जुड़े निलिया, कुंडला, पानोली, मालगढ़, जगेपुर, पर्वणी के किसान चरणसिंह, रामनिवास जाट, महिपालसिंह जाट ने बताया कि हमारे क्षेत्र में 80 फीसदी से ज्यादा फसलों पर बारिश की खेंच का असर पड़ा है।

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार अगले 3 दिन में बारिश की संभावना
कम बारिश से फसलों की ग्रोथ पर असर : मौसम के जानकारी व वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डॉ. सीपी पचोरी ने बताया कि मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार अगले दिन दिनों में अच्छी बारिश की संभावना है। सामान्यत: जुलाई में अच्छी बारिश होती है, इस साल उम्मीद बहुत कम बारिश हुई है। इसका असर फसलों की ग्रोथ पर पड़ा है। नुकसान कितना हुआ या होगा। इसका आंकलन फसल पकने के बाद क्राॅप कटिंग से किया जा सकेगा। उत्पादन पर असर तो इस बार पड़ेगा।

जुलाई माह में बारिश का रिकाॅर्ड
2010से अब तक जुलाई माह में सबसे कम बारिश जुलाई-2020 में ही हुई है। इस बार 152.30मिमी बारिश ही दर्ज की गई है। जबकि इसके पहले सबसे कम बारिश जुलाई-2011 में 229.6मिमी हुई थी। इन 10सालों में जुलाई माह में सबसे ज्यादा जुलाई-2013 में 505.2मिमी बारिश हुई थी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें