टीका महोत्सव:7 केंद्रों पर लक्ष्य से ज्यादा वैक्सीनेशन, दूसरे दिन 40 केंद्रों पर 3953 को लगे टीके

नीमच8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

टीका महोत्सव के दूसरे दिन सोमवार को जिले में 40 केंद्रों पर वैक्सीनेशन हुआ। यहां दिनभर में 7 हजार लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य था जिसमें से 3953 पहुंचे जिन्हें डोज दिया गया। इनमें 3285 ने पहला और 668 ने दूसरा टीका लगवाया। यानी लक्ष्य के मान से 56.47 प्रतिशत टीकाकरण हुआ। कोरोना टीकाकरण अभियान अब उत्सव के रूप में मनाया जा रहा है।

चार दिन चलने वाले इस उत्सव के दूसरे दिन भी जिले के टीकाकरण केंद्रों पर लोगों की भीड़ रही। कई जगह तो विभाग की उम्मीद से भी ज्यादा लोग पहुंच गए जिन्हें टीके लगाए गए। यह संख्या इसलिए भी बढ़ रही हैं क्योंकि अब लोग जागरूक हो गए है और वैक्सीन का महत्व समझने लगे हैं। वे दैनिक कार्याे में से समय निकालकर टीकाकरण केंद्र पहुंच रहे है। इसके अलावा गांव-गांव तक विभिन्न संगठन व अन्य माध्यमों से प्रचार प्रसार भी किया जा रहा है। जिले के बड़े अधिकारियों से लेकर आशा, आंगनवाड़ी, पंचायत सचिव, रोजगार सहायक भी लोगों को प्रेरित करके केंद्रों तक पहुंचा रहे हैं।

जावद, मनासा टीकाकरण में आगे- रोजाना हो रहे वैक्सीनेशन के लिए हर केंद्रों पर टारगेट तय करके वैक्सीन लगाई जा रही है। इसमें कुछ केंद्र ऐसे है जहां बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे हंै। सोमवार को भी 7 केंद्रों पर 100 फीसदी से ज्यादा टीके लगे। इनमें जावद में 203, उपस्वास्थ्य केंद्र खोर में 159, मनासा अस्पताल में 247, महिला बस्ती में 373, सामुदाियक भवन इंदिरा नगर में 135, जीरन में 246 व पालसोड़ा में 120 लोगों ने टीके लगवाए जो यहां के लक्ष्य के मान से अधिक है।

पीएलवी घर-घर जाकर दे रहे वैक्सीनेशन की जानकारी
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा नियुक्ति पैरालीगल वालेंटियर भी इस अभियान में अपनी सहभागिता निभा रहे है। कई वालेंटियर गांव-गांव जाकर लोगों को वैक्सीनेशन के बारे में जानकारी दे रहे तो कई केंद्रों पर मौजूद वहां की व्यवस्था बनाने में सहयोग करने के साथ लोगों को जागरूक भी कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...