पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

रविवार को बंद रहेगा मंदिर:भादवामाता के सुबह 8 से शाम 5 बजे तक रोज कर सकेंगे दर्शन

नीमचएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नवरात्रि को देखते हुए आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में कलेक्टर ने दिए आदेश, मास्क का उपयोग करना सभी के लिए अिनवार्य

मालवा की वैष्णोदेवी के नाम से प्रसिद्ध मां भादवा का मंदिर अब सोमवार से शनिवार तक रोज सुबह 8 से शाम 5 बजे तक दर्शन के लिए खुला रहेगा। प्रति सप्ताह रविवार को मंदिर के पट बंद रहेंगे। इस नई व्यवस्था से आगामी शारदीय नवरात्रि में दूर-दूर से दर्शन को आने वाले श्रद्धालुओं को परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। सोशल डिस्टेंस, मास्क व सैनिटाइजर का उपयोग प्रत्येक श्रद्धालु को करना अनिवार्य होगा। कोरोना काल में मंदिर की व्यवस्था को लेकर कलेक्टर जितेंद्रसिंह राजे ने शनिवार शाम को संशोधित आदेश जारी किए जो तत्काल प्रभाव से लागू हो गए। इसके तहत 27 सितंबर को मंदिर के पट श्रद्धालुओं के लिए नहीं खुलेंगे। कोरोना संक्रमण के कारण 22 मार्च से देश के धार्मिक स्थलों के साथ भादवामाता मंदिर के पट भी बंद हो गए थे। अनलॉक में धार्मिक स्थलों को खोलने की अनुमति दी। मंदिर समिति ने सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए कुछ समय पट खोलने की अनुमति नहीं दी। लगातार मांग होने पर 148 दिन बाद 17 अगस्त को मंदिर के पट खोले गए। कलेक्टर ने व्यवस्थाओं को लेकर गाइडलाइन जारी की। उसका पालन करते हुए मंदिर समिति द्वारा वर्तमान में श्रद्धालुओं को सोशल डिस्टेंस के साथ सिर्फ दर्शन की अनुमति दी जा रही है। अब प्रतिदिन नौ घंटे दर्शन की अनुमति मिलने से श्रद्धालुओं की संख्या धीरे-धीरे बढ़ने लगेगी।

पहले यह थी व्यवस्था- कोरोना संक्रमण के बीच 148 दिन बाद मंदिर के पट खुलने पर शासन की गाइडलाइन अनुसार कलेक्टर ने आदेश जारी किए थे। इसमें प्रतिदिन सुबह 8 से शाम 6 बजे तक दो-दो घंटे के अंतराल में दर्शन की व्यवस्था की थी। प्रत्येक दो घंटे बाद मंदिर की सफाई, सैनिटाइजर का छिड़काव किया जा रहा था।

अब यह व्यवस्था होगी- सोमवार से शनिवार तक प्रतिदिन सुबह 8 से शाम 5 बजे तक मंदिर के पट खुले रहेंगे। इस दौरान श्रद्धालुओं को सोशल डिस्टेंस के साथ कतार में लगकर दर्शन का इंतजार करना होगा। मंदिर में प्रवेश के बाद दर्शन करने के तुरंत बाद बाहर निकलना होगा। मंदिर के गर्भगृह में किसी को प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

इन नियमों का करना होगा पालन- {मंदिर के गर्भगृह में सिर्फ पुजारी को ही पूजा-अर्चना व सुबह-शाम आरती की अनुमति होगी। {श्रद्धालुओं को मास्क व फेस कवर पहनकर आने पर ही प्रवेश मिलेगा। {मंदिर के मुख्य प्रवेश द्वार पर सैनिटाइजर से हाथ धोना अनिवार्य होगा। {एक समय में अधिकतम 10-10 महिला-पुरुष को दर्शन की अनुमति होगी। {लकवा पीड़ित मरीजों को स्नानघर में नहाने की अनुमति नहीं होगी। {मंदिर में दर्शन के बाद पाटीदार समाज धर्मशाला स्थित गेट से बाहर निकलेंगे। {सामूहिक रसोई, लंगर, प्रसादी वितरण की अनुमति नहीं होगी।

नई व्यवस्था का आज से कराएंगे पालन
^कलेक्टर ने भादवामाता मंदिर परिसर में दर्शन के लिए नई व्यवस्था के आदेश जारी किए है। जो रविवार से लागू हो जाएंगे। सोमवार से शनिवार तक सुबह आठ से शाम पांच बजे तक दर्शन की व्यवस्था रहेगी। प्रत्येक रविवार को मंदिर के पट बंद रहेंगे। श्रद्धालुओं को कोरोना गाइडलाइन का पूरी तरह पालन कराया जाएगा।
अजय ऐरन, प्रबंधक- मंदिर समिति भादवामाता

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें