पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मास्टर प्लान 2035:भू-माफिया को फायदा देने बढ़ाया 323 हेक्टेयर आवासीय उपयोग क्षेत्र

रतलामएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रारूप का गजट नोटिफिकेशन, दावे-आपत्ति के लिए 30 दिन तक
  • सैटेलाइट इमेज और डिजिटल मानचित्र से गणना के कारण घटा एरिया, पहले होता था भौतिक सर्वे

तमाम आपत्तियों को दरकिनार करते हुए नगर एवं ग्राम निवेश विभाग (टीएंडसीपी) ने 2035 मास्टर प्लान के प्रारूप गजट नोटिफिकेशन कर दिया है। इसमें प्लानिंग एरिया 314.57 हेक्टेयर घट गया है। 2021 में निवेश क्षेत्र 10632.57 हेक्टेयर था। यह 2035 के मास्टर प्लान में 10318.13 हेक्टेयर रह गया है। इसका कारण भौतिक सर्वे की बजाए सैटेलाइट इमेज और डिजिटल मानचित्र के आधार हुई गणना को बताया जा रहा है।

चौंकाने वाली बात यह निवेश क्षेत्र का दायरा घटने के बावजूद भूमाफियाओं को लाभ देने के लिए टीएंडसीपी ने आवासीय उपयोग के लिए 2892.21 हेक्टेयर भूमि आरक्षित कर दी है। 2021 के प्लान में आवासीय उपयोग के लिए 2569.87 हेक्टेयर रखी गई थी, जिसमें से महज 1161.60 हेक्टेयर का ही आवासीय रूप से विकास हो पाया है। अब विभाग ने 30 दिन में मास्टर प्लान के प्रारूप पर सुझाव और आपत्ति मंगाई है। इनका निराकरण करते हुए संशोधित मास्टर प्लान बनेगा। उसको जिला समिति में पेश लागू करने के लिए संचालनालय भेजा जाएगा।

नए मास्टर प्लान में प्रस्तावित निवेश क्षेत्र

  • अत्यधिक उपयुक्त314.23
  • मध्यम उपयुक्त 6826.44
  • कम उपयुक्त 10.35
  • उपयुक्त नहीं 3167.11

(जमीन की उपयोगिता क्षेत्र हेक्टेयर में)

भूमि उपयोगिता : 2021 की स्थिति और 2035 के लिए प्रस्तावित
भूमि 2021 में प्रस्तावित वास्तविक विकसित 2035 में प्रस्तावित

  • आवासीय 2569.87 1161.60 2892.21
  • व्यावसायिक 196.32 89.20 192.14
  • औद्योगिक 547.33 261.0 590.03
  • सार्वजनिक उपयोगिता व सुविधा 279.83 258.48 407.86
  • आमोद-प्रमोद 629.54 60.79 684.63
  • यातायात एवं परिवहन 1007.73 616.84 1023.16
  • योग 5230.61 2447.91 6600.24

(आंकड़े हेक्टेयर में)

प्लान में हुए कई बदलाव

टीएंडसीपी का बनाया 2035 का मास्टर प्लान कई बदलावों के बाद तैयार हुआ है। 11 जनवरी को विभाग ने अचानक विधायकों के सामने पेश कर दिया है। इस पर आपत्ति लेते हुए शहर विधायक चेतन्य काश्यप, जावरा विधायक डॉ. राजेंद्र पांडे, ग्रामीण विधायक दिलीप मकवाना ने सिरे से खारिज कर दिया। इस पर कलेक्टर गोपालचंद्र डाड ने कमेटी बनाई थी। कमेटी ने मीटिंग के बाद आए सुझावों के आधार पर प्लान को संशोधित कर संचालनालय को भेजा था। इसे मंजूर करके सरकार ने गजट नोटिफिकेशन कर दिया है।

यह है शहर की मौजूदा जरूरत

  • प्रमुख के साथ आंतरिक सड़कों का चौड़ीकरण, इसके निगम ने रोड नेटवर्क तैयार कर लिया है, लेकिन जरूरत त्वरित क्रियान्वयन की है।
  • अंतरराज्यीय बसों के आवागमन को देख बड़े बस टर्मिनल की आवश्यकता, सिटी ट्रांसपोर्ट का प्रोजेक्ट 6 बार टेंडर निकलकर रुका।
  • शहर में एक भी पार्किंग एरिया नहीं है। पांच साल के रोडमैप में निगम ने चार जगह पार्किंग बनाने की योजना बनाई है।
  • अभी सबसे ज्यादा विकास सैलाना रोड पर हो रहा है, जबकि सागोद रोड, करमदी रोड, महू रोड पिछड़े हुए। इनके लिए प्रावधान करें।

मास्टर प्लान 2035 का गजट नोटिफिकेशन हो गया है। नया प्लान सैटेलाइट इमेज और डिजिटल मानचित्र के अनुसार बनाया गया है। दावे-आपत्तियां 30 दिन में प्रस्तुत कर सकते हैं। जिला समिति में लागू करने के लिए संचालनालय भेजेंगे। जीएल वर्मा, सहायक संचालक टीएंडसीपी

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें