पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ratlam
  • Cleansing Of Departments Connected With The Public In The Corona Period Keep Consumer Counters Open Even In Lockdown So That Penalty Is Not Waived

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जनता पर मार:जनता से जुड़े विभागों की कोरोना काल में चालाकी- लॉकडाउन में भी खोल रखे उपभोक्ता काउंटर ताकि पेनल्टी ना माफ करना पड़े

रतलाम10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • परेशानी यह कि लॉकडाउन में पुलिस की बंदिश के बीच बिजली व पानी का बिल भरने जाएं तो कैसे

1 मई से सख्त लॉकडाउन लगा हुआ। पुलिस की चेकिंग की डर से लोग घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं और इधर जनता से जुड़े विभाग जैसे बिजली कंपनी और नगर निगम के उपभोक्ता बिल भुगतान काउंटर चालू है।

उपभोक्ता आए या ना आए विभाग के काउंटर खोल कर बैठे हैं। इसके पीछे वजह बताई जा रही है पेनल्टी। आखिरी तारीख के बाद बिल या टैक्स जमा कराने पर विभाग ग्राहकों से पेनल्टी वसूलते हैं। पेनल्टी माफ ना करना पड़े इसके लिए काउंटर खोल रखे हैं ताकि बाद में यह हवाला दिया जा सके कि हमारे काउंटर तो खुले थे आप ही बिल जमा कराने नहीं आए।

जब जनता के सामने परेशानी यह कि यदि वो बिल जमा कराने के लिए घर से निकले तो पुलिस कार्रवाई करेगी और चालान काट देगी और ना जमा कराए तो पेनल्टी चुकाना होगी। खास बात तो यह है कि लॉकडाउन को चार दिन बाद एक महीना पूरा हो जाएगा। लेकिन अभी तक किसी विभाग ने यह सूचना सार्वजनिक नहीं की यदि आप देर से बिल जमा कराएंगे तो आपको पेनल्टी चुकाना होगी या नहीं।

बिजली, पानी के बिल को लेकर अब तक कोई फैसला नहीं किया, हजारों उपभोक्ताओं को चुकाना होगी पेनल्टी

पानी - शहर में 36 हजार उपभोक्ता हैं। नगर निगम इनसे हर महीने 150 रुपए जलकर वसूलता है। आखिरी तारीख के बाद बिल जमा कराने पर 20रुपए पेनल्टी निगम द्वारा वसूली जाती है। 9 अप्रैल से लॉकडाउन लगा है लेकिन अब तक निगम ने पेनल्टी को लेकर कोई घोषणा नहीं की है कि यह माफ होगी या नहीं।

पिछले साल लॉकडाउन में भी स्थिति बनी थी। लोगों के विरोध के बाद निगम ने पेनल्टी माफ की थी। जलप्रदाय विभाग के प्रभारी एसपी आचार्य ने बताया अभी कोई रियायत के आदेश नहीं हैं। आदेश आएंगे तो जानकारी देंगे। पिछले साल भी आगे से ही इसको लेकर फैसला हुआ था।

बिजली - शहर में 82 हजार बिजली उपभोक्ता हैं। लॉकडाउन के बीच कई उपभोक्ताओं की आखिरी तारीख निकल गई है लेकिन लॉकडाउन के कारण बिजली का बिल जमा नहीं करा पाए हैं। ऐसे उपभोक्ता जिनकी आखिरी तारीख निकल गई है उन्हें पेनल्टी चुकाना होगी या नहीं इस पर कोई फैसला नहीं हो पाया है।

यानी पेनल्टी माफ नहीं होती है तो उपभोक्ताओं को पेनल्टी चुकाना होगी। विभाग 1.25 फीसदी पेनल्टी वसूलती है। यानी आदेश नहीं आया तो यह पेनल्टी लगेगी। शहर कार्यपालन यंत्री विनय प्रतापसिंह ने बताया हमने मुख्यालय को अवगत करा दिया है। जैसे ही आदेश आएगा तो जानकारी देंगे।

बैंक - लोगों ने बैंकों को होम लोन, ऑटो लोन, पर्सनल लोन ले रखा है। 10 ताऱीख तक अधिकतर लोगों की किस्तें बैंक अकाउंट से कटना है। इससे कई लोगों को अपने अकाउंट में रुपए जमा कराना है लेकिन लॉकडाउन के कारण रुपए जमा नहीं करा पा रहे हैं। ऐसे में लोगों को पेनल्टी चुकाना होगी।

अलग-अलग बैंकों की किस्तों के अनुसार अलग-अलग पेनल्टी लगेगी। वहीं लोगों की सिविल खराब होगी सो अलग। बैंकों ने किस्त पर पेनल्टी माफ होगी या नहीं। लीड बैंक मैनेजर राकेश गर्ग ने बताया कि पेनल्टी सहित अन्य फैसले बैंक लेवल पर नहीं होते हैं। आरबीआई और सरकार ये फैसले लेती है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें