पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ratlam
  • Grocery Shops Will Open, Vegetables And Fruits Will Be Sold, Marriages Will Also Take Place, Unlocked From June 1

7 दिन के लिए 7 छूट:किराना दुकानें खुलेंगी, सब्जी -फल बिकेंगे, शादियां भी होंगी, 1 जून से अनलॉक

रतलाम23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 7 जून तक रहेगी नई गाइडलाइन
  • उसके बाद बढ़ेगा अनलॉक का दायरा

53 दिन के लॉकडाउन के बाद जिला पहली जून से अनलॉक होने लगेगा। शुरुआत में सात दिन यानी 1 से 7 जून तक के लिए सात छूट दी गई है। इसमें गली-मोहल्लाें की किराना दुकानें, आटा चक्की व मेडिकल स्टोर पूरे समय खुल सकेंगे। सब्जी और फल ठेलागाड़ी पर बिकेंगे। शादियां भी होंगी लेकिन सिर्फ 20 लोगों की मौजूदगी में। ऑटो रिक्शा, चार पहिया वाहन चलेंगे। अंतिम संस्कार 10 लोगों की मौजूद में होगा।

अभी ये छूट सिर्फ 7 जून तक के लिए है। उसके बाद छूट का दायरा बढ़ सकता है परंतु कोविड-19 की स्थिति को देखते हुए। 6 जून को जिला क्राइसिस कमेटी के सदस्य बैठकर आगे क्या-क्या अनलॉक करना है उस पर फैसला लेंगे। शहरवासियों के लिए राहत वाली बात यह है कि दस दिन पहले 22 मई से लागू की गई ई-पास व्यवस्था 31 मई को खत्म हो जाएगी। ये फैसले शनिवार शाम वित्त मंत्री तथा जिला कोविड प्रभारी मंत्री जगदीश देवड़ा की अध्यक्षता में हुई जिला क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की मीटिंग में सरकार की गाइड लाइन के अनुसार लिए गए।

शहर विधायक चेतन्य काश्यप, जावरा विधायक डॉ. राजेंद्र पांडे, ग्रामीण विधायक दिलीप मकवाना, राजेंद्र सिंह लुनेरा, गोविंद काकानी, वीरेंद्र पाटीदार, महेंद्र कटारिया प्रत्यक्ष, तो सांसद सुधीर गुप्ता और गुमान सिंह डामोर वर्चुअली शामिल हुए। कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने हॉट स्पॉट, पॉजिटिव मरीज सहित अन्य के संबंध में जानकारी दी। एसपी गौरव तिवारी, सीईओ जिला पंचायत मीनाक्षी सिंह, अपर कलेक्टर जमुना भिड़े मौजूद रही।

लग्नसरा को देखते हुए शर्तों के साथ बाजार खोलें-

आगामी लग्नसरा को देखते हुए सराफा सहित अन्य बाजार खोले जाना चाहिए। भले ही छूट समय सीमा या अन्य शर्तों के साथ दी जाए। यह सुझाव देते हुए शहर कांग्रेस अध्यक्ष महेंद्र कटारिया ने बताया दो माह से लॉकडाउन में व्यापारियों का काफी नुकसान हो चुका है। लग्नसरा भी कुछ ही दिन रहेगी, उसके बाद बारिश का मौसम शुरू हो जाएगा, इसलिए छूट देना चाहिए। वित्त मंत्री देवड़ा ने 7 जून से दायरा बढ़ाने का भरोसा दिलाया।

कंटेनमेंट जोन और पांच प्रतिशत से अधिक पॉजिटिविटी रेट वाले इलाकों में लागू नहीं होगी छूट -

जिले के 5 प्रतिशत से अधिक संक्रमण दर वाले इलाके, कंटेनमेंट जोन में ये छूट लागू नहीं रहेगी। इतना ही नहीं जिले में किसी भी स्थिति में 6 से अधिक लोग इकट्‌ठा नहीं हो सकेंगे। रियायत की मौजूदा व्यवस्था की निगरानी के लिए जिला प्रशासन ने दल और अमले का गठन किया है ताकि कोरोना गाइडलाइन का पालन करवाया जा सके। 6 जून काे अगली रियायतें तय की जाएंगी।
घर में व्यवस्था नहीं तो मरीजों को सीसीसी में रखा जाए - काश्यप-

विधायक चेतन्य काश्यप ने सुझाव दिया कि जिन कोरोना मरीजों के घर में पर्याप्त व्यवस्था नहीं है। उनको कोविड केअर सेंटर (सीसीसी) में ही रखा जाए। मेडिकल कॉलेज में बच्चों की चिकित्सा के लिए बेड से कुछ नहीं होगा। सरकार से बात कर आवश्यक उपकरण की व्यवस्था भी की जाए। विधायक डॉ. पांडे ने जावरा चिकित्सालय में जिला स्तरीय सुविधाएं मुहैया कराने की बात कही। विधायक दिलीप मकवाना ने ग्रामीण क्षेत्रों में कांटेक्ट ट्रेसिंग पर जोर दिया।

खबरें और भी हैं...