मुसलमान होने के शक में जैन बुजुर्ग की हत्या:नीमच का आरोपी BJP नेता गिरफ्तार; गृहमंत्री बोले- मृतक के परिवार से बात हुई, परिजन का इनकार

रतलाम6 महीने पहले

रतलाम जिले की सबसे बुजुर्ग सरपंच पिस्ताबाई चत्तर (86) के बड़े बेटे भंवरलाल जैन (65) की BJP नेता ने पीट-पीटकर हत्या कर दी। बुजुर्ग को मुसलमान होने के शक में मार डाला गया। मरने वाला शख्स एक अन्य BJP नेता का भाई था।

सरपंच का पूरा परिवार 15 मई को भेरूजी पूजा करने चित्तौड़गढ़ गया था। 16 मई को पूजा-पाठ के बाद भंवरलाल लापता हो गए। गुरुवार को उनका शव मनासा (नीमच) में पुलिस थाने से आधा किमी दूर रामपुरा रोड पर मिला था। अब भंवरलाल को पीटने का VIDEO सामने आया है। नीमच पुलिस ने आरोपी BJP नेता दिनेश कुशवाह को गिरफ्तार कर लिया है। मनासा में जब उसका घर गिराने बुलडोजर भेजा गया तब वह सामने आया। इस मामले में गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का बयान आया था कि उनकी परिजनों से बात हुई है, हालांकि मृतक के छोटे भाई ने गृहमंत्री से किसी भी तरह की बात होने से इनकार किया है।

पोल में हिस्सा लेकर आप अपनी राय दे सकते हैं...

मकान टूटने के डर से आरोपी ने किया सरेंडर
घटना का वीडियो वायरल होने के बाद प्रशासन का अमला दल-बल के साथ आरोपी दिनेश के घर जेसीबी लेकर पहुंचा था। आरोपी को शाम तक सरेंडर करने का अल्टीमेटम दिया गया था। जिसके बाद उसने सरेंडर कर दिया। जानकारी के मुताबिक प्रशासन अब घर तोड़ने की कार्यवाही को लेकर घर के दस्तावेजों को खंगालने में जुटा हुआ है। दरअसल, आरोपी का जो मकान है वह उसके भाई के नाम पर होने की जानकारी भी सामने आई है। इसी वजह से कार्यवाही में देरी हुई। जैसे ही दिनेश कुशवाह के हिस्से के मकान की पुष्टि हो जाती है, वैसे ही प्रशासन अपनी कार्यवाही शुरू करेगा।

बुरी तरह पीटता रहा BJP नेता
आरोपी दिनेश कुशवाहा VIDEO में भंवरलाल से आधारकार्ड दिखाने का कहकर बुरी तरह पीटते हुए नजर आ रहा है। दिनेश ने नाम-पता पूछा तो मानसिक रूप से कमजोर भंवरलाल के मुंह से मोहम्मद निकला। यह सुनकर दिनेश टूट पड़ा। उसने आधारकार्ड मांगा और भंवरलाल को लगातार चांटे मारे। पुलिस ने मनासा (रतलाम) के दिनेश कुशवाहा पर FIR दर्ज कर ली है। दिनेश भाजपा युवा मोर्चा और नगर इकाई में पदाधिकारी रहा है। उसकी पत्नी मनासा नगर परिषद में वार्ड नंबर 3 से भाजपा की पार्षद रही है।

जैन बुजुर्ग की हत्या का आरोपी बीजेपी नेता दिनेश कुशवाहा रंगदारी भी दिखाता रहा है।
जैन बुजुर्ग की हत्या का आरोपी बीजेपी नेता दिनेश कुशवाहा रंगदारी भी दिखाता रहा है।

मानसिक रूप से अस्वस्थ थे भंवरलाल
सिरसा (रतलाम) की सरपंच पिस्ताबाई के तीन पुत्र है- भंवरलाल, अशोक और राजेश चत्तर। अशोक चत्तर मंडी में तुलावटी एसोसिएशन के अध्यक्ष हैं, जबकि राजेश समाजसेवा में सक्रिय होकर सरपंच प्रतिनिधि हैं। सबसे बड़े बेटे भंवरलाल दिमागी रूप से अस्वस्थ थे। इसी वजह से उनकी शादी नहीं हुई थी।

चित्तौड़गढ़ किले से लापता हो गए थे भंवरलाल
सरपंच पिस्ताबाई के परिवार के सभी लोग पूर्णिमा पर राजस्थान के चित्तौड़गढ़ किले पर भेरू पूजन करने गए थे। दूसरे दिन 16 मई को दोपहर 12 बजे भंवरलाल परिजनों को बिना बताए किले से नीचे उतर गए। परिजनों ने काफी तलाश की, लेकिन जब वे नहीं मिले तो चित्तौडगढ़ कोतवाली थाने में गुमशुदगी दर्ज करवाई।

सबने सोचा कि वे बस में बैठकर अकेले जावरा आ गए होंगे, इसलिए वहां भी तलाश शुरू की, लेकिन गुरुवार 19 मई को दोपहर में मनासा के रामपुरा रोड पर भंवरलाल की लाश मिली। पुलिस ने इसे अस्पताल में रखा और मृतक की शिनाख्त के लिए सोशल मीडिया पर फोटो वायरल किया। सरसी में जैसे ही छोटे भाई अशोक और राजेश को सूचना मिली उन्होंने मनासा पहुंचकर शव की पहचान की। शिनाख्ती के बाद शुक्रवार सुबह पोस्टमॉर्टम कर शव गांव लाए और अंतिम संस्कार किया।

भंवरलाल (इनसेट) राजस्थान के चित्तौड़गढ़ किले पर भेरू पूजन करने गए थे।
भंवरलाल (इनसेट) राजस्थान के चित्तौड़गढ़ किले पर भेरू पूजन करने गए थे।

मारपीट का VIDEO खुद आरोपी ने वायरल किया
मारपीट का VIDEO भी आरोपी दिनेश ने खुद ही स्वच्छ भारत ग्रुप में वायरल किया। यहां से अन्य ग्रुप में होते हुए भंवरलाल के परिजनों तक पहुंचा। पुलिस ने इसी वीडियो के आधार पर संज्ञान लेते हुए भाजपा पार्षद के पति की तलाश शुरू की और FIR की। फिलहाल वह फरार है। शुरुआत में मनासा थाना पुलिस FIR करने को लेकर टालमटोल करती दिखाई दी। जैन समाज और परिजनों की शिकायत पर आरोपी दिनेश कुशवाहा पर धारा 302 और 304 के अंतर्गत केस किया गया।

जेब से 200 रुपए निकालने का भी आरोप
राजेश चत्तर का कहना है भाई भंवरलाल भोलेपन के कारण कुछ बता नहीं पाए होंगे। उनके साथ दिनेश ने बुरी तरह मारपीट की। शंका है कि इसी से मौत हुई। पोस्टमॉर्टम के वक्त शरीर पर मारपीट के निशान भी थे। मारपीट करने वाले ने उनकी जेब से 200 रुपए भी निकाल लिए।

आरोपी के घर पर बुलडोजर चलाने की मांग
ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि आरोपी का घर बुलडोजर से तुड़वाया जाए। भंवरलाल के मित्र रामचंद्र टेलर ने कहा कि हम ग्रामीण मुख्यमंत्री से मांग करते हैं कि आरोपी के घर बुलडोजर चलवाएं। मृतक के रिश्तेदार विकास ओरा ने कहा कि पुलिस ने हमें मंगलवार तक का समय दिया है। हम इंतजार कर रहे हैं। यदि आरोपी पर उचित कार्रवाई नहीं हुई तो हम भी वहां जाकर विरोध-प्रदर्शन करेंगे।

पैर में लगी चोट के बारे में पूछा तो बाहर कर दिया
भंवरलाल के भाई राजेश चत्तर ने बताया मनासा में पीएम के दौरान जब मैंने पैर पर लगी चोटें देखकर पूछताछ की, तो मुझे जबरन पीएम रूम से बाहर कर दिया गया। सही जानकारी भी नहीं दी। इससे तय है कि उनकी मौत मारपीट से ही हुई। राजेश चत्तर सहित सैकड़ों लोग मनासा थाने में दिनेश कुशवाह के विरूद्ध रिपोर्ट दर्ज करवाने पहुंचे थे। राजेश ने कहा कि दिनेश कुशवाह को शंका भी थी तो पुलिस के पास ले जाता, मारपीट का अधिकार नहीं था।

मनासा के पास सारसी के चक्कर में वहां पहुंचे
जिस कंडक्टर ने निंबाहेडा से भंवरलाल को जावरा बस में बैठाया उसका फोन राजेश चत्तर के पास आया था। राजेश ने बताया वे जावरा बस स्टैंड तक आ गए थे। यहां सरसी जाने के लिए मनासा की बस में बैठ गए। मनासा के पास सारसी गांव हैं। बस वाले भी समझे सारसी जाना होगा। मनासा में भंवरलाल भटक गए और घबराहट में कुछ बोल नहीं पाए।

गृहमंत्री से कोई बात नहीं हुई
गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का बयान आया था कि मृतक के परिजनों से उनकी बात हुई है। वहीं मृतक के छोटे भाई राजेश चत्तर ने बताया उनकी गृहमंत्री से कोई बात नहीं हुई।

MP में ये क्या हो रहा है: कमलनाथ
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट किया और कहा- ये मध्यप्रदेश में आखिर हो क्या रहा है…? कमलनाथ ने कहा कि सिवनी में आदिवासियों की पीट-पीटकर हत्या, गुना, महू, मंडला की घटनाएं और अब प्रदेश के नीमच जिले के मनासा में एक बुजुर्ग की पीट-पीटकर हत्या… जिनका नाम भंवरलाल जैन बताया जा रहा है। कमलनाथ ने कहा कि सिवनी की तरह यहां भी आरोपी का जुड़ाव भाजपा से होना सामने आ रहा है। प्रदेश की कानून व्यवस्था आखिर कहां है? कब तक लोगों को यूं ही मारा जाता रहेगा…? अपराधियों के हौसले इतने बुलंद क्यों हैं…? सरकार का ध्यान तो सिर्फ इवेंट में है?
इस मामले में पूर्व CM दिग्विजय सिंह ने एक ट्वीट को रीट्वीट किया। लिखा- मुझे जानकारी मिली है कि भाजपा के दिनेश कुशवाह के विरुद्ध धारा 302 के तहत केस दर्ज किया गया है। देखते हैं गिरफ्तारी होती है या नहीं।

दिग्विजय किसी और धर्म के बारे में नहीं बोलते: गृहमंत्री
गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का बयान भी सामने आया है। गृहमंत्री ने कहा कि दिग्विजय का साथ उसी को मिलेगा, जो हिंदू धर्म या हिंदू देवी-देवताओं के खिलाफ बोलेगा। क्या आपने कभी देखा कि इन्होंने किसी और धर्म के खिलाफ बोलने वाले का समर्थन किया हो या खुद कभी किसी और धर्म के खिलाफ बोला हो। यह बोल ही नहीं सकते किसी और धर्म के बारे में। 'उन्होंने कहा कि दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर रतन लाल का समर्थन करना भी इसी का एक उदाहरण है। मिश्रा ने ये भी बताया कि नीमच की घटना के आरोपी के खिलाफ IPC की धारा 302 और 304 के तहत केस दर्ज किया है।