• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ratlam
  • Kuber's Treasury Started Decorating In Ratlam's Famous Mahalaxmi Temple, Mother's Court Is Being Decorated With Bundles Of Diamonds And Gems.

महालक्ष्मी मंदिर में सजने लगा कुबेर का खजाना:हीरे- जेवरात और नोटों से सजाया जा रहा मां का दरबार

रतलामएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रतलाम के माणक चौक स्थित प्रसिद्ध महालक्ष्मी मंदिर में इस वर्ष फिर से कुबेर का खजाना सजना शुरू हो गया है है। यहां राजस्थान और गुजरात से श्रद्धालुओं अपनी धन और दौलत मां लक्ष्मी के चरणों में सजाने के लिए यहां पहुंच रहे हैं। मंदिर में आज सुबह से शुरूू हुई बुकिंग व्यवस्था में 500 श्रद्धालुओंं ने अब तक मंदिर परिसर में जमा करवाए हैं। जनता के लिए महालक्ष्मी के दर्शन की व्यवस्था पूर्व के वर्षों की तरह की जाएगी। जिसके लिए है मंदिर परिसर में व्यवस्था की जा रही है। गौरतलब है कि पिछले वर्ष कोरोना काल के चलते महालक्ष्मी मंदिर में प्रसिद्ध कुबेर का खजाने के दर्शन श्रद्धालु नहीं कर सके थे। इस वर्ष भी मातालक्ष्मी के दर्शन श्रद्धालुओं को बाहर से ही करने पड़ेंग।

आस्था ऐसी की मनीऑर्डर से पहुंचाते हैं श्रद्धालु माता के दरबार में चढ़ावा

गुरु पुष्य नक्षत्र के साथ ही माता लक्ष्मी के मंदिर में श्रद्धालु अपनी धन और दौलत सजाने के लिए पहुंचा रहे हैं। वहीं कई श्रद्धालु मनी ऑर्डर सभी माता लक्ष्मी के दरबार में चढ़ावे की राशि पहुंचा रहे हैं। भोपाल के एक श्रद्धालु ने माता लक्ष्मी के दरबार में चढ़ावे के लिए मनीआर्डर से रुपए भेजे हैं । मंदिर के पुजारी ने बताया कि कई श्रद्धालु मनीआर्डर द्वारा चढ़ावा पहुंचाते हैं।

श्रद्धालुओं की धन और दौलत का रखा जाता है हिसाब

रतलाम का प्रसिद्ध महालक्ष्मी मंदिर यहां श्रद्धालुओं द्वारा मां लक्ष्मी के दरबार में सजाए जाने वाली करोड़ों रुपए की दौलत के लिए देशभर में प्रसिद्ध है। यहां रतलाम जिले ही नहीं राजस्थान महाराष्ट्र और गुजरात से श्रद्धालु अपने धन और दौलत महालक्ष्मी के दरबार में सजाने के लिए भेजते हैं। जिसमें नगद नोटों की गड्डीयों से लेकर हीरे और बेशकीमती जवाहरात शामिल होते हैं। मान्यता है कि मां लक्ष्मी के दरबार में 5 दिनों तक अपनी दौलत सजाने उसमें महालक्ष्मी का आशीर्वाद प्राप्त होता है। श्रद्धालुओं द्वारा लाखों रुपए की नगदी और सोने चांदी के आभूषण चढ़ाए जाते हैं। जिनका हिसाब रखने के लिए रजिस्टर मेंटेन किया जाता है। वहीं, सीसीटीवी कैमरा और पुलिस फोर्स की नजर भी 24 घंटे मां लक्ष्मी के दरबार में सजे कुबेर के खजाने पर रहती है।