पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

पाइप लाइन फूटी:15 घंटे बंद रहा धोलावड़ का पुराना इंटकवेल, आधा शहर रहा बिना पानी

रतलाम4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फूटे हुए पाइप को निकालते जलप्रदाय के कर्मचारी।
  • पटरी पार के इलाके में 12 घंटे देरी से सप्लाई, 5 मई को भी फूट गई थी पुरानी पाइप लाइन
  • क्रेक होने से 6 मीटर के दोनों पाइप निकालकर बदलना पड़े

18 दिन बाद धोलावड़ डैम से शहर आ रही पुरानी पाइप गुरुवार रात 2 बजे फिर फूट गई। जलप्रदाय अमले को इसे ठीक करने में 15.30 घंटे लग गए। इससे पोलोग्राउंड और गौशाला टंकी से शनिवार को करीब आधे शहर में पानी नहीं बंट पाया। रात में इन दोनों टंकियों को भरकर अब शनिवार सुबह 6 बजे से शुक्रवार को जिन क्षेत्रों में पानी नहीं मिला, पहले उन्हें दिया जाएगा। इससे शनिवार को पेयजल सप्लाई का शेड्यूल एक दिन आगे बढ़ जाएगा। 

इधर सुबह 7.20 बजे ऋतुराज संपवेल की बिजली की केबल में फाॅल्ट हो गया। इसकी मरम्मत में दोपहर 3 बज गए। इससे पटरी पार के क्षेत्रों में 12 घंटे देरी से सुबह 7 बजे की बजाए शाम 7 बजे से सप्लाई दी गई। इसके पहले 5 मई को भी पुरानी पाइप लाइन फूट गई थी।

6 मीटर के दो पाइप नए लगाने पड़े 
लाइन फूटने की सूचना मिलते ही निगम ने सबसे पहले पुराने इंटकवेल के दोनों पंप बंद करवाए। रात को सारा इंतजाम कर इंजीनियर भैयालाल चौधरी 7 बजे मौके पर पहुंचे। जेसीबी से गड्ढा खोदा तो जो पाइप फूटा था, उससे जुड़े पाइप में भी क्रेक दिखा। इस पर 6 मीटर के दोनों पाइप निकालकर नए लगाए गए। शाम 4.30 बजे लाइन ठीक होने के बाद पहले पंप चलाकर ज्वाइंट चेक किए गए। इसके बाद 5.30 बजे से टंकियां भरना शुरू हुईं।

गंगासागर टंकी भरी, लेकिन केबल खराब होने से बूस्टिंग नहीं हो पाई 
पटरी पार के इलाकों में गंगासागर टंकी भरी होने के बावजूद शनिवार सुबह पानी नहीं मिला। वजह यह रही कि पटरी पार के क्षेत्र में गंगासागर टंकी से पानी छोड़ने के साथ ही ऋतुराज संपवेल से बूस्टिंग भी की जाती है, तब जाकर सारे क्षेत्रों में प्रेशर से पानी पहुंचता है। सुबह संपवेल की बिजली की केबल फाॅल्ट होने बूस्टिंग नहीं हो पाई इसलिए शाम को 7 से 10 बजे के बीच पानी दिया गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन पारिवारिक व आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदाई है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ विश्वास से पूरा करने की क्षमता रखे...

और पढ़ें