• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ratlam
  • Omicron's Threat, Yet Only 1400 Samples Increased In 10 Days, Angry Collector Said Send Team To Weddings, Malmas From Tomorrow

विशेष निगरानी की जरूरत:ओमिक्रॉन का खतरा फिर भी 10 दिन में सिर्फ 1400 सैंपल बढ़े, नाराज कलेक्टर बोले - शादियों में टीम भेजो, कल से मलमास

रतलामएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • रतलाम जिले की सीमा पर विशेष निगरानी रखने की जरूरत है क्योंकि हम राजस्थान से जुड़े हुए हैं लेकिन अब चुनौती ये कि आज से शादियों पर भी लग जाएगा ब्रेक, मांगलिक भवन भी सूने मिलेंगे, राहत है 23 दिन से कोई पॉजिटिव नहीं

कोरोना के नए वैरिएंट ऑमिक्रॉन का खतरा लगातार बना हुआ है। इसे लेकर अलर्ट जारी है। रतलाम पर विशेष निगरानी की जरूरत है, क्योंकि, हम राजस्थान से जुड़े हुए हैं। इधर, ओमिक्रॉन के पहले और बाद में 10 दिन में सिर्फ 1,400 सैंपल बढ़े हैं। कम सैंपलिंग पर कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम की नाराजगी सामने आई है। उन्होंने सोमवार को आदेश दे दिया कि शादियों में टीम भेजो और सैंपल लो। बड़ी चुनौती रहेगी क्योंकि मलमास लग जाने के कारण शादियों पर ब्रेक लग जाएगा।

ऑमिक्रॉन को लेकर स्वास्थ्य विभाग में तीसरी लहर की आशंका के चलते तैयारियां शुरू हो गई है। इधर, अमला विदेश से आने वालों को लेकर सख्ती बरत रहा है, जो कि जरूरी भी है। लेकिन, राजस्थान बाॅर्डर पर रोक-टोक नहीं है। वहीं, 1200 सैंपल लेना है, नवंबर के शुरुआती 10 दिन में 2 दिन ऐसे थे जब 1 हजार से ज्यादा सैंपल हुए थे, वहीं, दिसंबर में 3 दिन ऐसा हुआ है जब 1 हजार से ज्यादा सैंपल लिए हैं।

कोरोना नियंत्रण को लेकर सोमवार को हुई बैठक में कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने स्वास्थ्य विभाग को चेता दिया कि सैंपल लेने में ढिलाई नहीं बरते। शादी-विवाह बड़ी संख्या में हो रहे हैं, विभाग अपनी टीम भेजें, सैंपल ले और जांच कराएं। इस दौरान सभी अधिकारी मौजूद थे, मलमास के कारण शादियों पर ब्रेक लग जाएगा, ऐसे में स्वास्थ्य विभाग को ही नए सिरे से प्लानिंग की जरूरत है।

ऑमिक्रॉन के पहले : नवंबर में 10 दिन सैंपल

  • 1 नवंबर 766
  • 2 नवंबर 857
  • 3 नवंबर 831
  • 4 नवंबर 350
  • 5 नवंबर 721
  • 7 नवंबर 670
  • 8 नवंबर 864
  • 9 नवंबर 1100
  • 10 नवंबर 1142

ऑमिक्रॉन के बाद : दिसंबर में 10 दिन

  • 1 दिसंबर 745
  • 2 दिसंबर 759
  • 3 दिसंबर 538
  • 4 दिसंबर 960
  • 5 दिसंबर 609
  • 6 दिसंबर 1114
  • 7 दिसंबर 716
  • 8 दिसंबर 1033
  • 9 दिसंबर 1057
  • 10 दिसंबर 1163

रतलाम शहर 100% वैक्सीनेटेड, लेकिन कोरोना का खतरा बरकरार

शहर 100% वैक्सीनेटेड हो चुका है। हाल ही में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने घोषणा की है। ऐसे में यदि तीसरी लहर आती है तो अब भयावहता की संभावना कम होने की उम्मीद कर सकते है। लेकिन, कोरोना नहीं होगा ऐसा भी नहीं है। क्योंकि, खतरा बरकरार है। अन्य शहरों में वैक्सीन के दोनों डोज लगने के बाद कोरोना के मामले सामने आ रहे है। शहर में भी कई लोगों को वैक्सीन के दोनों डोज लगने के बाद भी कोविड हुआ है।

20 नवंबर के बाद कोई पॉजिटिव नहीं

इधर, हमारे शहर में आखिरी पॉजिटिव 20 नवंबर को आया था, इसके बाद कोई भी पॉजिटिव नहीं है। एक्टिव केस लगातार 0 ही बने हुए है। अब तक 17507 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है। 311 लोग ऐसे है जिन्होंने कोरोना के कारण जान गंवा दी है।

खबरें और भी हैं...