• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ratlam
  • Only 100 People Are Allowed To Watch Ravana Dahan, The Artists Who Come As Shri Ram, Lakshman And Hanuman Will Not Have A Running Ceremony

कोरोना का असर:रावण दहन देखने के लिए 100 लोगों को ही इजाजत, श्रीराम, लक्ष्मण व हनुमान बनकर आने वाले कलाकारों का नहीं निकलेगा चल समारोह

रतलाम2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दो गेट में से एक वीआईपी व दूसरा आम नागरिकों के लिए रहेगा

कोरोना काल के चलते जहां रावण के पुतले का कद कम हुआ वहीं रावण दहन को देखने के लिए आने वाले लोगों की संख्या भी प्रशासन ने तय कर दी है। रावण दहन को लेकर नगर निगम ने स्टेडियम में बैरिकेड लगाकर व्यवस्था कर दी है। यहां वीआईपी व आम नागरिकों के लिए एक ही गेट बनाया गया है। इसी एक गेट से एंट्री व उसी बाहर जाने का रास्ता बनाया गया है। रावण दहन के लिए आने वाले कलाकारों को भी चल समारोह नहीं निकाला जाएगा। रावण दहन के कुछ समय पहले नेहरू स्टेडियम पहुंचा दिया जाएगा।

गुरुवार देर शाम तक नेहरू स्टेडियम में बैरिकेड लगाने के साथ ही अन्य व्यवस्था अंतिम दौर में चल रही थी। स्टेडियम की टूटी दीवारों पर लोहे के पाइप व जाली लगाकर रास्ता बंद किया गया है। मुख्य रूप से दो गेट चालू रहेंगे। इसमें से एक में वीआईपी तथा दूसरे में से आम नागरिकों की आवाजाही रहेगी। शाम को होने वाले रावण दहन में केवल 100 लोगों को ग्राउंड में आने की परमिशन रहेगी। उसमें वे ही लोग आ पाएंगे जिन्होंने मास्क पहन रखा होगा और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन पूरी तरह से कराया जाएगा।

कलाकार बनेंगे राम, लक्ष्मण व हनुमान

श्री कालिका माता सेवा मंडल ट्रस्ट में सेवा देने वाले युवाओं को राम, लक्ष्मण व हनुमान का रूप धारण करेगा। ट्रस्ट अध्यक्ष राजाराम मोतियानी व उपाध्यक्ष गणपतलाल शर्मा ने मिलकर राम के लिए हर्षवर्धन, लक्ष्मण के लिए आदित्य दुबे तथा हनुमान के लिए रवि शर्मा का चयन किया है। रवि शर्मा पहले दो-तीन बार हनुमान का रोल कर चुके हैं जबकि हर्षवर्धन व आदित्य दुबे का यह पहला मौका है जब वे यह रोल कर रहे हैं। ट्रस्ट के अधिकारियों ने बताया कि कोरोना के चलते इस बार भी झांकी व चल समारोह नहीं निकाला जाएगा।

100 से ज्यादा लोगों को अनुमति नहीं रहेगी

रावण दहन को देखने के लिए आने वाले प्रथम 100 लोगों को ग्राउंड में अनुमति दी जाएगी। जिन व्यक्तियों को अनुमति दी जाएगी वे मास्क लगाने के साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन करना अनिवार्य रहेगा। 100 से ज्यादा नागरिक आते हैं तो उन्हें ग्राउंड के बाहर से ही रावण दहन कार्यक्रम देखना होगा। -अभिषेक गेहलोत, शहर एसडीएम

खबरें और भी हैं...