पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मेडिकल कॉलेज में सीटी स्कैन मशीन नहीं होने से परेशानी:संक्रमण रोकना जरूरी लेकिन सीटी स्कैन के लिए 5 किमी तय कर रहे

रतलामएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मेडिकल काॅलेज में सिटी स्कैन मशीन नहीं है। इससे कोविड मरीजों को शहर के मध्य 5 किलोमीटर दूर जांच कराने के लिए आना पड़ रहा है। इससे मरीजों को भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है व संक्रमण फैलने का अंदेशा बना हुआ है तथा जांच रिपोर्ट भी देरी से मिल रही है। जिला अस्पताल में सिटी स्कैन मशीन की स्थापना का काम चल रहा है लेकिन यह भी मेडिकल काॅलेज से काफी दूर है, इसलिए मेडिकल काॅलेज में सिटी स्कैन मशीन लगाई जाकर मरीजों की परेशानी को दूर किया जाए।

यह मांग भाजपा नेता और पूर्व जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के पूर्व अध्यक्ष अशोक चौटाला ने की है। उन्होंने मेडिकल कॉलेज में ही सिटी स्कैन मशीन लगाने की मांग की है। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार ने 7 महीने पहले कोरोना महामारी की दूसरी लहर के मद्देनजर प्रदेश के 8 जिलों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने का निर्णय लिया था। उसमें रतलाम भी शामिल है लेकिन यहां पर ऑक्सीजन प्लांट नहीं लगा। जबकि 2 नवंबर को ही आदेश हो चुके थे। 7 जिलों मे प्लांट स्थापित होकर कभी से शुरू हो गए हैं। ऐसा लगता है कि प्लांट स्थापना में अभी 15-20 दिन ओर लगेंगे क्योंकि प्लांट शुरू करने से पहले ऑक्सीजन का सैंपल लेबोरेटरी में पास होने के लिए दिल्ली जाएगा।

खबरें और भी हैं...