• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ratlam
  • SIT Formed To Investigate The Death Of Trainee Nun In St. Joseph's Convent School, Will Give Investigation Report In 7 Days

प्रशिक्षु नन आत्महत्या मामले की एसआईटी करेगी जांच:सेंट जोसेफ कॉन्वेंट स्कूल में प्रशिक्षु नन की मौत की जांच के लिए एसआईटी का गठन , 7 दिनों में देगी जांच रिपोर्ट

रतलामएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसआईटी करेगी जांच - Dainik Bhaskar
एसआईटी करेगी जांच

रतलाम के सेंट जोसेफ कॉन्वेंट स्कूल के हॉस्टल में 17 वर्षीय छात्रा द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या करने के मामले में एसपी गौरव तिवारी ने जांच के लिए 11 सदस्यों की एसआईटी का गठन कर दिया है। एसआईटी की टीम 7 दिन में मामले की रिपोर्ट एसपी को देगी । 9 दिसंबर की रात सेंट जोसेफ कॉन्वेंट स्कूल के 11वीं कक्षा में अध्ययनरत प्रशिक्षु नन की मौत रहस्यमय परिस्थितियों में हो गई थी। स्कूल प्रबंधन ने मृतिका आलीशान के द्वारा फांसी लगाया जाना की जानकारी दी थी। जिसके बाद उड़ीसा से लौटे मृतिका के माता पिता को भी स्कूल प्रबंधन ने मीडिया से नहीं मिलने दिया था। वहीं ,मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने इस मामले में जांच के लिए एसआईटी टीम का गठन किया है जो आगामी 7 दिनों में इस मामले की जांच रिपोर्ट देगी। एसआईटी में एफएसएल और साइबर सेल के अधिकारियों को भी शामिल किया गया है।

यह था मामला

दरअसल सेंट जोसफ कॉन्वेंट स्कूल परिसर में 9 दिसंबर की रात 17 वर्षीय छात्रा अलीशान लोम्गा द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या किए जाने की जानकारी स्कूल प्रबंधन ने पुलिस को दी थी। मृतिका को मृत अवस्था में स्कूल प्रबंधन के लोग गुरुवार रात जिला अस्पताल लेकर पहुंचे थे। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। जिसके बाद स्टेशन रोड पुलिस ने उड़ीसा से आलीशान के परिजनों के आने के बाद शव का पोस्टमार्टम करवाया था । शनिवार को मृतिका अलीशान के पिता लेब्रियल, मां बतिस्ता और भाई अखिलेश लोम्गा कार से जिला अस्पताल पहुंचे थे। लेकिन स्कूल प्रबंधन के लोगों ने उन्हें स्थानीय मीडिया से बात तक नहीं करने दी । जिसके बाद छात्रा की मौत का रहस्य भी गहराता जा रहा है । संदेहास्पद परिस्थितियों में हुई छात्रा की मौत के बाद विभिन्न हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं और एबीवीपी ने स्कूल प्रबंधन पर गंभीर आरोप लगाते हुए हैं पुलिस से इस मामले में उच्च स्तरीय जांच किए जाने की मांग की थी।

बहरहाल संदेहास्पद परिस्थितियों में हुई छात्रा की मौत के बाद एसपी गौरव तिवारी ने इस मामले की जांच 11 सदस्यों की एसआईटी टीम से करवाने का निर्णय लिया है। यह टीम आगामी 7 दिनों में छात्रा की मौत के मामले की जांच रिपोर्ट एसपी को सुपुर्द करेगी।