• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ratlam
  • Tracing Of High Risk Contacts Of Positive Will Have To Be Done, More Samples From Hotspot Areas, Staff Will Work On Test, Track And Treat, If Not Mask Then Fine

पॉजिटिव मिलते ही अमला हरकत में:पॉजिटिव के हाई रिस्क कान्टेक्ट की ट्रेसिंग करना होगी,हॉटस्पाट इलाकों से होंगे ज्यादा सैंपल,टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट पर काम करेगा अमला, मास्क नहीं तो जुर्माना

रतलामएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में मंगलवार को एक पॉजिटिव मरीज आ गया। इसके साथ प्रशासनिक अमला एक्शन मोड में आ गया है। मंगलवार को कलेक्टर ने धारा-144 में जिले की सीमा में प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए हैं। इसके मुताबिक टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट पर अमला काम करेगा। वहीं, बच्चों के इलाज के लिए भी पुख्ता इंतजाम रखने काे कहा है।

कोराेना की तीसरी लहर की आशंका लगातार है। मंगलवार को कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम के आदेश के मुताबिक अब पॉजिटिव प्रकरण ना बढ़े इसके लिए टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट पर काम होगा। टीकाकरण में गति और कोविड अनुकूल व्यवहारों का पालन करना अनिवार्य होगा।

आदेश में यह : बच्चों के इलाज के लिए जरूरी इंतजाम करने काे कहा

  • पर्याप्त जांच सुविधाएं ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में उपलब्ध रहे।
  • जिले में हाट स्पाॅट्स का चिन्हांकन कर ऐसे क्षेत्रों में ज्यादा से ज्यादा सैंपल लिए जाए।
  • पॉजिटिव केस में हाई रिस्क व ज्यादा से ज्यादा अन्य कांटेक्ट्स को सूचीबद्ध कर उनकी ट्रेकिंग एवं टेस्टिंग कर निगरानी में रखा जाए।
  • पॉजिटिव केस को लक्षण के आधार पर अस्पताल में कोविड आइसोलेशन वार्ड, आईसीयू वार्ड या कोविड हाई डिपेंडेंस वार्ड में भर्ती किया जाए।
  • केवल लक्षण रहित पॉजिटिव ऐसे लोग जिनके पास हवादार कमरा शौचालययुक्त कक्ष की व्यवस्था हो, उन्हें चिकित्सक सलाह के बाद होम आइसोलेशन की अनुमति दी जा सकती है।
  • होम आइसोलेशन वालों की वीडियो कालिंग के माध्यम से निगरानी की जाएगी।
  • हाई रिस्क कंट्री से आने वाले यात्रियों की आरटीपीसीआर रिपोर्ट नेगेटिव आने पर यात्रियों को महत्वपूर्ण अनिवार्यतः 7 दिन के लिए होम क्वारंटाइन किया जाएगा। 8वें दिन दोबारा आरटीपीसीआर होगी।
  • ओमिक्रॉन वैरिएंट पाजीटिव मिलता है तो संस्थागत आइसोलेशन में रखा जाएगा, जब तक आरटीपीसीआर जांच निगेटिव नहीं हो।
  • पर्याप्त आक्सीजन सिलेंडर व क्रियाशील आक्सीजन कंसट्रेटर की उपलब्धता ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के स्वास्थ्य संस्थाओं में रहे।
  • बच्चों में कोविड-19 के प्रबंधन के लिए आवश्यक व्यवस्थाएं (दवा, सामग्री एवं उपकरण) सुनिश्चित करें।
  • आदेश का उल्लंघन भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के अन्तर्गत दंडनीय अपराध होगा।
खबरें और भी हैं...