बवड़ीखेड़ा में हुई दो घटना:पारिवारिक विवाद के चलते दो महिलाओं ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

रतलाम8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सरवन के पास उंडेर और बवड़ीखेड़ा में हुई दो घटनाओं में दो महिलाओं ने फांसी लगा आत्महत्या कर ली। कारण पारिवारिक विवाद बताया है। सरवन पुलिस जांच कर रही है। प्रधान आरक्षक कोदर सिंघाड़ ने बताया उंडेर निवासी 38 वर्षीय लालीबाई पति रायचंद खराड़ी तथा बावड़ीखेड़ा निवासी 20 वर्षीय रवीना पति विकास मईड़ा की मौत हुई है। लालीबाई के पति रायचंद ने पुलिस को बताया 20 साल पहले हरियापाड़ा (राजस्थान) निवासी बालू मईड़ा की बेटी लाली से शादी हुई थी। दो बेटी और एक बेटा है। काका वीरसिंह के यहां शादी में गए थे। रात को आकर सो गए। सुबह 6:30 बजे बेटी अनीता उठी तो मां को फंदे पर लटका देखा।

रवीना के जेठ गुड्‌डू मईड़ा ने बताया मझले भाई विकास की शादी जूनाखेड़ा (राजस्थान) निवासी कनेरा निनामा की बेटी रवीना से हुई थी। परिवार के लोग काका नानूराम के यहां शादी में गए थे और विकास की पत्नी रवीना घर में अकेली थी। दोपहर में गुड्‌डू ने दरवाजा खटखटाया तो जवाब नहीं मिला। काका के यहां से पिता शंभू, काका का बेटा बापू तथा रवीना के पिता कनेरा निनामा आ गए। कवेलू हटाकर देखा तो रस्सी से बंधे फंदे पर रवीना की लाश लटकी मिली। पुलिस को जानकारी दी और शव को सरवन अस्पताल पहुंचाया।

इधर, कीटनाशक पीने से पेटलावद निवासी नवविवाहिता की मौत

रतलाम | कीटनाशक पीने से तबीयत बिगड़ने पर निजी अस्पताल में भर्ती अमरगढ़ (पेटलावद) निवासी नवविवाहिता की रविवार सुबह मौत हो गई। 22 वर्षीय पूजा पति सुरेश पाटीदार निवासी अमरगढ़ (पेटलावद झाबुआ) की मौत हुई है। ताऊ लालशंकर पाटीदार ने बताया वे चार भाई हैं। छोटे भाई पुरुषोत्तम की बेटी पूजा चारों भाइयों की संतानों में अकेली लड़की थी। 2016 में आननखेड़ी निवासी सुरेश पाटीदार से उसकी शादी हुई थी। ससुरा वालों ने प्रताड़ित किया तो शादी के एक साल बाद मायके आ गई। पति के खिलाफ कोर्ट में भरण-पोषण का दावा लगाया। रविवार सुबह परिवार के लोग खेत पर थे। घर में अकेली पूजा ने करीब 11:30 बजे जहर खा लिया। बच्चों ने बताया तो उसे पेटलावद अस्पताल ले गए जहां से रतलाम रेफर किया था।

खबरें और भी हैं...