• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ratlam
  • Urea Was Being Sold To The Farmers At Double The Price, On The Orders Of The Collector, The Revenue Officials Who Arrived As Farmers Caught Red Handed

अधिक दाम पर यूरिया बेचने पर तीन दुकानदारों पर एफआईआर:दोगुने दाम पर बेच रहे थे किसानों को यूरिया, कलेक्टर के आदेश पर किसान बनकर पहुंचे राजस्व अधिकारियों ने रंगे हाथ पकड़ा

रतलाम7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ग्राहक बनकर पहुंचे राजस्व अधिकारी - Dainik Bhaskar
ग्राहक बनकर पहुंचे राजस्व अधिकारी

रतलाम में खाद की कालाबाजारी पर रोक लगाने के लिए कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम द्वारा कारवाई करने के सख्त निर्देश जारी किए गए थे । जिसके बाद महंगे दामों पर मिल रहे यूरिया की शिकायत पर कलेक्टर ने संज्ञान लेते हुए । जावरा क्षेत्र में राजस्व अधिकारियों को किसान के भेष में यूरिया खरीदने भेजा । जहां तीन दुकानदारों के यहां लगभग दोगुने दामों में यूरिया बिकते हुए पाया गया । जिस पर कार्रवाई करते हुए प्रशासन के अधिकारियों ने खाद विक्रेताओं की दुकान सील कर दुकानदारों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज करवाई है । जावरा की मैसर्स भागीरथ बंसीलाल एजेंसी, चपड़ोद एग्रो एवं कोचट्टा बीज भंडार पर प्रशासन द्वारा यह कार्रवाई की गई है।

तीन दुकानदारों पर एफआईआर
तीन दुकानदारों पर एफआईआर

दरअसल रतलाम जिले में खाद की मांग बढ़ने के साथ ही खाद की कालाबाजारी पर अंकुश लगाने के लिए प्रशासन द्वारा पहले से ही निर्देश जारी किए गए थे । कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने सभी राजस्व अधिकारियों को खाद की कालाबाजारी पर नजर रखने और महंगे दामों पर खाद बेचे जाने की स्थिति में कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए गए थे । बावजूद इसके खाद की कमी और महंगे दामों पर यूरिया बेचे जाने की शिकायत लगातार मिल रही थी। जिसकी तस्दीक करवाने के लिए कलेक्टर ने राजस्व विभाग के अधिकारियों को किसान के भेष में ग्राहक बनकर यूरिया खरीदने भेजा। जहां ₹266 प्रति बैग के मूल्य पर मिलने वाला यूरिया साडे ₹450 तक में बेचा जा रहा था। जिस पर तत्काल कार्रवाई करते हुए दुकानें सील कर दी गई और संबंधित थाने में एफआईआर भी दर्ज कराई गई है।

बहरहाल इस मामले में प्रशासन द्वारा जिले में समस्त उर्वरक विक्रेताओं को चेतावनी दी गई है कि वे निर्धारित कीमत पर ही यूरिया तथा अन्य उर्वरकों का विक्रय किसानों को करें अन्यथा सख्त कार्रवाई के लिए तैयार रहें।

खबरें और भी हैं...