धान के अवैध कारोबार पर शिकंजा:UP के बरगढ़ से रीवा लाई जा रही 90 बोरी धान जब्त, जंगल के रास्ते आ रही थी बिकने, पुलिस ने घेराबंदी कर पकड़ा

रीवा14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पनवार थाना अंतर्गत देवी मंदिर रिमारी के पास से पुलिस ने बनाई जब्ती

UP के चित्रकूट जिला अंतर्गत बरगढ़ गांव से MP बॉर्डर क्रॉस कर रीवा की ओर आ रही धान से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली को पनवार पुलिस ने जब्त कर दिया है। सूत्रों की मानें तो अक्सर UP की ओर से MP की तरफ अवैध रूप से धान का परिवहन सड़क मार्ग व जंगल के रास्ते किया जाता है। क्योंकि बॉर्डर क्रॉस करते ही धान का समर्थन मूल्य 600 से 700 रुपए मिलने लगता है।

ऐसे में लोकल व्यापारी चोरी छिपे अवैध धान को लाकर रीवा जिले की समितियों में बेंच देते है। इसी बीच देर शाम मुखबिर की सूचना पर पनवार पुलिस ने धान से लोड एक ट्रैक्टर-ट्रॉली को जब्त किया। जब परिवहन संबंधी दस्ताबेज मांगे तो नहीं मिले। ऐसे में ट्रैक्टर-ट्रॉली की जब्ती बनाते हुए अपराध क्रमांक 7/2022 धारा 411 का प्रकरण दर्ज किया है।

मिली जानकारी के मुताबिक शुक्रवार की शाम करीब 5 से 6 बजे के बीच पनवार पुलिस ने चेकिंग के दौरान देवी मंदिर रिमारी के पास धान से लोड एक ट्रैक्टर-ट्रॉली को पकड़ा था। पूछताछ में चालक ने अपना नाम भैया लाल कोल बताया। चालक ने बयान दिया कि वह बरगढ़ गांव से धान लोड कर जवा थाना अंतर्गत सिगटी पूर्वा निवासी लाला गुप्ता के घर जा रहा हूं।

उसके पास परिवहन संबंधी कोई दस्ताबेज नहीं है। जिसके बाद थाना प्रभारी महेंद्र सिंह ने पुलिस के आला ​अधिकारियों को अवगत कराया। अधिकारियों ने कार्रवाई करने के दिए निर्देश। ऐसे में 90 बोरी धान वजन 45 क्विंटल को जब्त कर मय ट्रैक्टर-ट्रॉली को थाने पर खड़ा कराया गया है। पुलिस की मानें कि जब्त धान 80 से 90 हजार रुपए की है। थाना पुलिस ने अपराध दर्ज करते हुए धान बेचने वाले, धान खरीदने वाले, ट्रैक्टर मालिक और चालक की भूमिका को जांच रही है।

खबरें और भी हैं...