रीवा के सोहागी पहाड़ में हादसा:ट्रॉला खड़ा कर चाचा शौच करने गया, तभी टायर में फंसी गिट्टी निकालने लगा भतीजा, पेचकस रखते ही पहिया फटने से युवक की मौत

रीवा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ट्रॉला चालक चाचा के साथ मैहर जा रहा भतीजा रास्ते में टायर फटने से हादसे का शिकार हो गया। तेज आवाज की गूंज से सोहागी पहाड़ थर्रा उठा। इधर, नेशनल हाईवे 30 से गुजर रहे वाहनों के पहिए कुछ समय के लिए थम गए। कुछ देर बाद शौच कर जब ट्रॉला चालक मौके पर पहुंचकर देखा। यहां भतीजा खून से लथपथ पड़ा था। इसकी सूचना सोहागी पुलिस को दी गई। पुलिस ने पीएम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया।

सोहागी थाना प्रभारी उपनिरीक्षक पवन शुक्ला ने बताया, सनी हरिजन (18) पिता बालेन्द्र हरिजन निवासी तबरवार, उत्तर प्रदेश अपने चाचा के साथ ट्रॉला क्रमांक यूपी 52 टी 5863 से मैहर शारदा देवी के दर्शन करने जा रहा था। दावा है, उक्त ट्रॉला देवरिया से गिट्टी लोड करने अक्सर मैहर जाता है। ऐसे में भतीजा समेत घर के अन्य सदस्य ट्रॉला में सवार होकर शुक्रवार रात रवाना हुए थे। वे शनिवार सुबह 8 बजे जैसे ही एनएच 30 के रास्ते सोहागी पहाड़ के पास पहुंचे, तो चालक ट्रॉला रोककर शौच के लिए चला गया।

साथ ही, अन्य लोग भी चले गए। भतीजा सनी वहीं रुका रहा। कुछ देर बाद वह पहिया चेक करने लगा। पीछे के पहिये में गिट्टी फंसी दिखी। इसे वह पेचकश की मदद से निकालने लगा। इसी बीच पहिया फूला और टायर फट गया। अचानक से टायर फटने से युवक हवा दूर जा गिरा। इससे उसका सिर फट गया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। आवाज सुनकर घर के सदस्य दौड़े।

धमाके की आवाज गूंजा पहाड़
राहगीरों ने बताया, अचानक से फटा टायर धमाके की तरह गूंजा। पहले तो लोग बड़ा ब्लास्ट ही समझ बैठे थे, लेकिन चालक व परिचालक के आने के बाद टायर फटने की बात समाने आई थी। फिर राहगीरों ने ही डायल 100 और पुलिस को सूचना दी।

खबरें और भी हैं...