• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Rewa
  • Action Will Be Taken On Rude Behavior With Deputy Registrar On The Day Of Retirement In APSU Of Rewa

जूते की माला भेंट करने का मामला:APSU में रिटायरमेंट के दिन डिप्टी रजिस्ट्रार के साथ अभद्र व्यवहार पर होगी कार्रवाई, जांच के आदेश

रीवा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

APS यूनिवर्सिटी रीवा में डिप्टी रजिस्ट्रार को जूते की माला भेंट करने के मामले में उच्च शिक्षा विभाग ने संज्ञान में लेते हुए संभागायुक्त को जांच के आदेश दिए है। बता दें कि एक दिन पहले अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय में आयोजित हुए नौवें दीक्षांत समारोह में शामिल होने कुलाधिपति व प्रदेश के राज्यपाल मंगू भाई पटेल आए थे। उसी दिन उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव के सामने विश्वविद्यालय के अधिका​रियों ने 30 नवंबर की घटना का जिक्र किया था।

तब उच्च शिक्षा मंत्री ने नाराजगी जाहिर करते हुए पूरे मामले को सुनने के बाद निंदा की थी। कहा था कि विश्वविद्यालय के अंदर इस तरह की घटनाएं होना अशोभनीय है। वो भी तब जब एक कर्मचारी सेवानिवृत्त हो। गौरतलब है कि उच्च शिक्षा मंत्री सोमवार को रीवा प्रवास पर थे। मंगलवार सुबह भोपाल पहुंचकर उच्च शिक्षा मंत्रालय पहुंचे। जहां रीवा के APS यूनिवर्सिटी मामले में एक्शन लेते हुए जांच कराते हुए संबंधित कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए है।

संभागायुक्त को जांच के आदेश
उच्च शिक्षा विभाग की अपर सचिव वीरन सिंह भलावी ने रीवा संभागायुक्त को पत्र लिखा है। कहा है कि 2 दिसंबर को मप्र राज्य विश्वविद्यालय सेवा अधिकारी संघ ने ज्ञापन दिया था। ज्ञापन पढ़ने पर पता चला कि APSU उप कुल​सचिव लाल साहब सिंह के सेवानिवृत्त के अवसर पर विदाई समारोह के दौरान कतिपय कर्मचारियों ने असभ्य एवं अशोभनीय व्यवहार किया था। ऐसे में संबंधितों के खिलाफ कार्रवाई की जाए।

कार्रवाई का ये आदेश जारी किया गया है।
कार्रवाई का ये आदेश जारी किया गया है।

रिटायरमेंट के दिन जूते की माला भेंट!: रीवा में यूनिवर्सिटी के डिप्टी रजिस्ट्रार से कर्मचारी यूनियन ने की हरकत; थैंक्यू कहकर दिया जवाब

कहा है कि पूरे घटना क्रम की जांच कर संबंधित अधिकारियों व कर्मचारियों अन्य व्यक्तियों के विरूद्ध जांच कराकर नियमानुसार व अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाए। साथ की कार्यवाही की जानकारी विभाग को उपलब्ध कराई जाए। पत्र की कापी राज्यपाल सचिवालय, रीवा कलेक्टर, कुलपति एपीएसयू, कुलसचिव एपीएसयू और मप्र राज्य विश्वविद्यालय सेवा अधिकारी संघ के मुख्यालय को भेजी गई है।

कर्मचारी विरोधी होने का यूनियन ने लगाया था आरोप
कर्मचारी यूनियन के अध्यक्ष बुद्धसेन पटेल ने उप कुल​सचिव डॉ.लाल साहब सिंह को कर्मचारी विरोधी होने का आरोप लगाया था। इसी वजह से विदाई समारोह में कोई भी कर्मचारी संगठन नहीं शामिल हुआ था। वहीं दूसरी तरफ 30 नवंबर को कुलपति कक्ष से निकलते समय डिप्टी रजिस्ट्रार को बुद्धसेन पटेल ने दुआ सलाम करते हुए जूते की माला पहनाने की कोशिश की थी। लेकिन डिप्टी रजिस्ट्रार धन्यवाद कहकर आगे बढ़ गए थे। वीडियो वायरल होने के बाद इस व्यवहार की सभी ने निंदा की थी।

खबरें और भी हैं...