• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Rewa
  • Big Change In The Service Of Dial 100 In Vindhya, Now Police Vehicles Will Not Run Without Constable, Head Constable, ASI

युवती को अर्द्धनग्न हालत में थाने ले जाने का मामला:विंध्य में डायल 100 में बड़ा बदलाव- ASI, हेड कॉन्स्टेबल और कॉन्स्टेबल भी रहेंगे; नगर सैनिक ईवेंट में नहीं जाएंगे

रीवाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मामले में डीआईजी ने पुलिस कंट्रोल रूम में बैठक ली। - Dainik Bhaskar
मामले में डीआईजी ने पुलिस कंट्रोल रूम में बैठक ली।

विंध्य क्षेत्र के रीवा, सतना, सीधी और सिंगरौली जिले में डायल 100 सर्विस में बदलाव किया गया है। डायल 100 में कॉन्स्टेबल, हेड कॉन्स्टेबल और ASI शामिल रहेंगे। साथ ही, अकेले नगर सैनिकों को गाड़ी चलाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। बुधवार को रीवा पुलिस द्वारा युवती को अर्द्धनग्न हालत में थाने ले जाने का मामला सामने आने के बाद ये निर्णय लिया गया है। मामले में आईजी उमेश जोगा ने सभी एसपी को निर्देश दिए हैं।

23 जून को शाहपुर थाना क्षेत्र में युवती का वीडियो वायरल होने के बाद आईजी उमेश जोगा ने डीआईजी अनिल सिंह कुशवाह को सख्त निर्देश दिए हैं। इसमें अब जोन के चारों जिलों में डायल 100 वाहन में कॉन्स्टेबल, हेड कॉन्स्टेबल और ASI शामिल की ड्यूटी अनिवार्य होगी। साथ ही, कोई भी कर्मचारी किसी से भी अभद्र व्यवहार नहीं करेगा।

थाना प्रभारी को सूचना देकर इवेंट में जाएं

आईजी ने कहा है, शिकायत मिलती है, तो बिना थाना प्रभारी को सूचना दिए कोई भी इवेंट में नहीं जाएगा। नि:संदेह डायल 100 ने कई अच्छे काम किए हैं, लेकिन कुछ लोगों की गलतियों के कारण पुलिस की छवि खराब होती है। व्यवस्थाओं में सुधार को लेकर आईजी के निर्देश पर डीआईजी ने गुरुवार को रीवा के डायल 100 के कर्मचारियों की बैठक दोपहर में पुलिस कंट्रोल में बुलाई थी।

सभी एसपी ने अपने जिलों में बैठक

उक्त निर्देश आईजी ने चारों जिलों के एसपी को भी दिए हैं। आईजी ने कहा, सभी एसपी अपने जिलों में सभी डायल 100 कर्मचारियों की बैठक लें। निर्देश दें, घटनाओं के दौरान जनता के साथ दुर्व्यवहार न करें। साथ ही, प्रत्येक वाहन में एक एएसआई या एचसी होना चाहिए, जिसमें दौरान पर्याप्त कर्मचारी हों। उन्हें हमेशा थानों में सूचित करना चाहिए। घटनास्थल पर जाने से पहले पुलिस थाना और आवश्यकता के अनुसार अतिरिक्त स्टाफ की मांग करें। केवल होमगार्ड अकेले वाहन में चलने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।

थाना प्रभारी लाइन अटैच

शाहपुर की घटना के बाद मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी राकेश सिंह के निर्देशानुसार बस मालिक व नगर सैनिक समेत 4 लोगों पर एसटी एससी एक्ट और अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। वहीं, थाना प्रभारी श्वेता मौर्य की गंभीर लापरवाही मानते हुए लाइन अटैच कर दिया गया है।

चार लोगों की गिरफ्तारी

दावा है- अर्द्धनग्न हालत में थाने ले जाने वाले नगर सैनिक नगर सैनिक रामसुंदर कोल 480 व वीडियाे बनाने वाले बस मालिक को गिरफ्तार कर लिया गया है। साथ ही, पुलिस ने दो अन्य की भी गिरफ्तारी की है।

MP पुलिस को यह क्या हो गया:बस में प्रेमी के साथ संदिग्ध हालत में मिली युवती; गालियां देते हुए अर्द्धनग्न हालत में थाने ले गए