पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Rewa
  • BJP MLA Upset With The Bureaucrats Of His Own Government, Staged A Sit in In The Superintending Engineer's Office Regarding The Problem Of Electricity Department

मऊगंज MLA का मौन धरना:BJP विधायक अपनी ही सरकार के नौकरशाहों से परेशान, बिजली विभाग की समस्या को लेकर अधीक्षण यंत्री कार्यालय में दिया धरना

रीवा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रीवा अधीक्षण यंत्री कार्यालय में अकेले धरने पर बैठे विधायक। - Dainik Bhaskar
रीवा अधीक्षण यंत्री कार्यालय में अकेले धरने पर बैठे विधायक।
  • दोपहर 12 बजे से एमपीईबी कार्यालय में गद्दा बिछाकर धरने में बैठे विधायक प्रदीप पटेल, एक बजे अधिकारी ने दिया आश्वासन, क्षेत्रीय एई से आम जनता परेशान

मऊगंज विधानसभा से भाजपा विधायक प्रदीप पटेल अपनी ही सरकार के नौकरशाहों से परेशान होकर रीवा स्थित अधीक्षण यंत्री कार्यालय में धरना दिए है। बताया गया कि यह धरना पूरी तरह से गांधी वादी विचारधारा से मिलता जुलता मौन धरना है। वे शनिवार की दोपहर करीब 12 बजे एमपीईबी कार्यालय गद्दा लेकर पहुंचे। इसके बाद मौन धरने पर विधायक बैठ गए।

जैसे ही मामले की जानकारी अधीक्षण यंत्री को मिली तो वह 1 बजे कार्यालय पहुंचे। उन्होंने ज्ञापन को देखकर मऊगंज के एई से बात करने की कोशिश की तो वह फोन नहीं रिसीव किए। ऐसे में अधीक्षण यंत्री भी कार्यालय से लापता हो गए। हालांकि इस दौरान विधायक का धरना शाम 7 बजे तक चलता रहा।

मऊगंज विधायक प्रदीप पटेल के मीडिया सलाहकार संतोष मिश्रा ने बताया कि शनिवार की दोपहर 12 बजे विधायक जी रीवा के अधीक्षण यंत्री कार्यालय क्षेत्र की समस्याओं को लेकर गए थे। उन्होंने बताया कि स्थानीय विद्युत अमले से लेकर, जिला स्तर और संभागस्तर के अधिकारियों से क्षेत्र की समस्या रख चुके है। फिर भी कोई निदान नहीं हुआ। आरोप है कि बारिश का सीजन आने से पहले क्षेत्र के कई ट्रांसफार्मर बिगड़े है। तब भी सुधार नहीं हो रहा। बीते सप्ताह आई आंधी तूफान से मऊगंज कस्बा व ग्रामीण क्षेत्रों में जगह जगह केवल टूटी और कटी हुई है।

लगातार शिकायत व धरना प्रदर्शन के बाद जब एई ने बात नहीं सुनी तो वह रीवा के अधीक्षण यंत्री कार्यालय पहुंचे। जहां पर वह कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए अकेले ही मौन धरने पर बैठ गए। इस दौरान अधीक्षण यंत्री ने दोपहर ​1 बजे वि​धायक से मिलकर मऊगंज एई से बात करनी चाही पर उन्होंने फोन नहीं रिसीव किया। ऐसे में वे भी कार्यालय छोड़कर लापता हो गए।

अक्सर चर्चा में रहते है मऊगंज विधायक
बीजेपी विधायक के हाई वोल्टेज ड्रामा के बाद से जिला प्रशासन के हाथ पैर फूल आएं है। वहीं जन चर्चा है कि हमेशा ही क्षेत्र की समस्याओं को लेकर मऊगंज विधायक विरोध प्रदर्शन करते है। पर भाजपा सरकार में विधायकों की ही कोई सुनने को तैयार नहीं है। एक विद्युत अधिकारी ही विधायक को गोल गोल घुमा रहा है।

खबरें और भी हैं...