• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Rewa
  • Dead Body Of Old Man Found In Well Under Suspicious Condition In Rewa District, Had Eaten Food With Family Members At Night, Dead Body Found In Morning

रीवा जिले में सुबह का बवाल शाम को थमा:रात में परिजनों के साथ खाना खाकर सोए बुजुर्ग की सुबह कुएं में मिली लाश, परिजनों ने कहा की गई हत्या, पैर बंधे मिलने से उलझी मर्डर​ मिस्ट्री

रीवाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक का कुएं में तैरता शव। - Dainik Bhaskar
मृतक का कुएं में तैरता शव।
  • संदिग्ध अवस्था में लाश मिलने से सुबह 8 बजे से शाम 4 बजे तक चला बवाल, एसडीएम नीलमणि अग्निहोत्री, एएसपी शिवकुमार वर्मा व एसडीओपी पीएस परस्ते के समझाइश के बाद मानें परिजन

रीवा जिले के बैकुंठपुर थाना अंतर्गत मनवाही गांव में मंगलवार की सुबह 8 बजे एक बुजुर्ग का शव कुएं में दिखने के बाद हड़कंप मच गया है। आक्रोशित परिजन हत्या का आरोप लगाकर सुबह से शाम तक बवाल मचाए। 8 घंटे तक चले बवाल के बाद सिरमौर एसडीएम नीलमणि अग्निहोत्री, एएसपी शिवकुमार वर्मा व एसडीओपी पीएस परस्ते के समझाइश के बाद परिजन माने तब कहीं जाकर शाम 4 बजे पीएम के लिए डेड बॉडी सिरमौर अस्पताल भेजी गई।

बैकुंठपुर थाना प्रभारी निरीक्षक राजकुमार मिश्रा ने बताया कि इन्द्रमणि शुक्ला पिता हनुमानदीन शुक्ला (70) निवासी मनवाही रोजाना की तरह रात में खाना खाने के बाद घर में सो गए थे। लेकिन मंगलवार की सुबह 8 बजे घर के कुछ ही दूरी पर उनका शव कुएं में तैरता मिला है। हालांकि शव को देखने पर किसी भी तरह के चोंट के निशान नहीं है। लेकिन पैर बंधे होने के कारण मामला पुलिस भी संदिग्ध मान रही है।

कुएं से नहीं निकलने दिए 8 घंटे शव
बैकुंठपुर थाना प्रभारी ने कहा कि परिजन लगातार 8 घंटे तक आक्रोशित होकर विरोध प्रदर्शन करते रहे। उनकी मांग है कि संदेही की गिरफ्तारी की जाए। तब डेड बॉडी कुएं से उपर आएगी। ऐसे में लगातार समझाइश का दौर चल रहा है। हालांकि सुबह से कई बार बैकुंठपुर पुलिस को ग्रामीणों के आक्रोश का सामना करना पड़ा था। फिर शाम 4 बजे जब पुलिस प्रशासन के जिम्मेदार गांव पहुंचे और संदेही की गिरफ्तार की आश्वासन दिया। तब शव को बाहर निकालकर पीएम के लिए अस्पताल भेजा गया।

मझियार निवासी सजल सिंह पर हत्या का आरोप
बताया गया कि परिजन मझियार निवासी सजल सिंह पर हत्या का आरोप लगा रहे है। ग्रामीणों की मानें तो आरोपी ने बीते दिनों बुजुर्ग के साथ मारपीट भी की थी। जिसकी शिकायत बैकुंठपुर थाने में दर्ज हुई थी। पर बैकुंठपुर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया। जिससे रात में मौका ताककर बुजुर्ग को झांसे में लिया और कुएं के पास ले जाकर पैर बांधकर हत्या कर दी। फिर ​भी स्थानीय पुलिस आरोपी के पक्ष में बचाव करते नजर आई। इसलिए सुबह का बवाल शाम तक खिंच गया।

एफएसएल यूनिट भी दिनभर रही परेशान
पैर बंधे शव मिलने से मर्डर​ मिस्ट्री शुरुआत से ही उलझी नजर आई। हालांकि बैकुंठपुर पुलिस भी मामले को संदिग्ध मान रही थी। फिर भी आक्रोशित परिजन घटनास्थल पर एसपी राकेश सिंह को बुलाने के लिए अड़े हुए थे। कहा था कि जब एसपी आएंगे संदेही आरोपी को गिरफ्तार करेंगे। तब डेड बॉडी कुएं से निकालने देंगे। ऐसे में सुबह से मौके पर पहुंचे एफएसएल यूनिट के वैज्ञानिक अधिकारी शाम तक परेशान रहे। जब शाम को परिजन मानें तो साक्ष्य जुटाने के बाद डेड बॉडी पीएम के लिए भेजी गई।

खबरें और भी हैं...