महिला डॉक्टर ने रात 2 बजे वार्ड ब्वॉय को पीटा:रीवा मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टर ने वार्ड ब्वॉय से कहा- तू कौन होता है; फिर जड़ दिए थप्पड़, देखें VIDEO

रीवाएक वर्ष पहले

संजय गांधी स्मृति हॉस्पिटल में गुरुवार रात 2 बजे हंगामा हो गया। यहां महिला जूनियर डॉक्टर और वॉर्ड ब्वॉय के बीच मरीज को वार्ड में शिफ्ट करने की बात पर विवाद हो गया। इसके बाद महिला डॉक्टर ने वार्ड ब्वॉय को थप्पड़ जड़ दिया। घटना से नाराज अस्पताल के सभी वार्ड ब्वॉय एकत्रित होकर कार्रवाई की मांग पर अड़ गए। सफाईकर्मी भी उनके समर्थन में उतर आए। विरोध के बाद प्रबंधन ने थप्पड़ मारने वाली डॉ. नीलम को तत्काल प्रभाव से समस्त क्लीनिक कार्यों से हटा दिया।

अस्पताल के वार्ड ब्वॉय विपिन पांडेय ने बताया कि दूसरी मंजिल के ICU में भर्ती मरीज को चौथी मंजिल पर शिफ्ट करने के लिए कहा गया था। वह रात 2 बजे मरीज को लेकर वार्ड में पहुंचा। वहां डॉ. नीलम सिंह से मरीज को भर्ती करने के लिए कहा। इस पर वह भड़क गईं। उन्होंने कहा कि इसे घर ले जाओ, यहां जगह नहीं है।

इस दौरान मरीज के परिजन भी साथ थे। डॉक्टर से जब कहा कि मरीज ऑक्सीजन पर है, तो वह आक्रोशित होकर मारपीट पर उतर आईं। गुस्से में महिला चिकित्सक बाहर आईं और वार्ड ब्वॉय को थप्पड़ जड़ दिया। मरीज के परिवार वालों ने इस घटना का वीडियो बना लिया। इसे सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया। इसके बाद सभी वार्ड ब्वॉय एकत्रित हो गए। रात में ही CMO को घटना से अवगत कराया गया।

अमहिया थाना में शिकायत दर्ज

आक्रोशित वार्ड ब्वॉय जूनियर महिला चिकित्सक पर कार्रवाई की मांग को लेकर थाने पहुंच गए। यहां लिखित शिकायत की गई है। मेडिकल कॉलेज के डीन डॉक्टर मनोज इंदुलकर ने शुक्रवार दोपहर विभागाध्यक्ष को कार्रवाई के लिए निर्देशित किया। इसके बाद डॉ. नीलम सिंह को समस्त क्लीनिकल कार्यों से हटा दिया गया है। वहीं, घटना की जांच के लिए 3 सदस्य कमेटी बनाई गई है। अब डॉ. अनुराग चौरसिया की अध्यक्षता वाली कमेटी जांच कर रिपोर्ट सौंपेगी।

खबरें और भी हैं...