सांसद ने हाथ से साफ किया टॉयलेट, VIDEO:रीवा सांसद स्कूल पहुंचे तो टॉयलेट गंदा था, ग्लव्स-ब्रश नहीं मिला तो हाथ से सफाई कर डाली

रीवा2 दिन पहले

रीवा से भाजपा सांसद जनार्दन मिश्रा हाथों से टॉयलेट साफ करने की वजह से चर्चा में हैं। घटना गुरुवार की है, जब सांसद महोदय रीवा के खटकरी में एक गर्ल्स स्कूल में पहुंचे थे। मौका था PM नरेंद्र मोदी का जन्मदिन सेवा पखवाड़े का। स्कूल में कार्यक्रम तो पौधरोपण का था, लेकिन जनार्दन मिश्रा ने स्कूल का निरीक्षण भी किया।

टॉयलेट गए तो वहां काफी गंदगी दिखी। इस पर सांसद खुद सफाई में जुट गए। हद तो तब हो गई, जब सांसद को टॉयलेट साफ करने के लिए ब्रश और ग्लव्स तक नहीं मिले। फिर सांसदजी ने हाथ से ही टॉयलेट सीट साफ कर डाली। जब सांसद ये काम कर रहे थे, तब चपरासी स्कूल में मौजूद था।

PM-CM को भी वीडियो में टैग कर दिया

टॉयलेट की सफाई के बाद जनार्दन मिश्रा ने PM नरेंद्र मोदी, BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा, CM शिवराज सिंह चौहान, मप्र भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा और हितानंद शर्मा को टैग करते हुए वीडियो ट्वीट किया है।

6 बार टॉयलेट सफाई का वीडियो शेयर कर चुके
अक्सर चर्चा में रहने वाले रीवा सांसद मोदी के समर्थक हैं। सरपंच से सांसद बने मिश्रा पहले भी 6 बार टॉयलेट सफाई का वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर कर चुके हैं। इसमें उन्होंने PM मोदी को भी टैग किया था। इसी तरह कई बार उनका कचरा कलेक्शन और ऑफिस टेबल साफ करने का वीडियो भी सामने आ चुका है।

सांसद मिश्रा ने वर्ष 2018 में भी पंचायत हिनौता की प्राइमरी स्कूल का टॉयलेट भी साफ किया था। वे स्वच्छता अभियान के तहत सड़कों की सफाई भी कर चुके हैं।
सांसद मिश्रा ने वर्ष 2018 में भी पंचायत हिनौता की प्राइमरी स्कूल का टॉयलेट भी साफ किया था। वे स्वच्छता अभियान के तहत सड़कों की सफाई भी कर चुके हैं।

फरवरी 2018: सांसद जनार्दन मिश्रा संसदीय क्षेत्र में जनसंपर्क करने के लिए निकले। जनसंपर्क के तहत ग्राम पंचायत हिनौता पहुंचे, यहां उन्होंने प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान शौचालय में गंदगी होने पर टॉयलेट सीट को साफ किया। इससे पहले भी जनार्दन मिश्रा स्वच्छता अभियान के तहत सड़कों की सफाई करते रहे हैं, लेकिन ऐसा पहली बार है जब किसी सांसद ने शौचालय की टॉयलेट सीट को साफ किया हो।

मई 2021: दूसरा मामला रीवा जिले के मउगंज जनपद के ग्राम पंचायत सेमरिया कुंज बिहारी क्वारैंटाइन सेंटर का है। सांसद जनार्दन मिश्रा क्वारैंटाइन सेंटर का निरीक्षण करने गए थे। सांसद ने जब देखा कि सेंटर का टॉयलेट काफी गंदा है, उसे साफ नहीं किया गया तो उन्होंने इसे साफ करने का फैसला किया। झाड़ू नहीं मिली तो बाहर से पेड़ की सूखी लकड़ी की टहनियां मंगवाईं, हाथ में सर्जिकल ग्लव्स पहने और टॉयलेट साफ कर दिया। पानी से लकड़ी की टहनियों से टॉयलेट साफ किया।

आप इस पोल पर अपनी राय दे सकते हैं...

सांसद जनार्दन मिश्रा ने पिछले साल रीवा में कहा था- कलेक्टर की कॉलर पकड़ लेना, किसी को एक तमाचा मारना, कमिश्नर को कुर्सी से गिरा देना, हम लोगों का काम था।
सांसद जनार्दन मिश्रा ने पिछले साल रीवा में कहा था- कलेक्टर की कॉलर पकड़ लेना, किसी को एक तमाचा मारना, कमिश्नर को कुर्सी से गिरा देना, हम लोगों का काम था।

भाजपा सांसद जनार्दन मिश्रा अपने विवादास्पाद बयान को लेकर भी चर्चा में रहे हैं। उन्होंने नवंबर 2021 में रीवा में कहा था कि कलेक्टर की कॉलर पकड़ लेना, किसी को एक तमाचा मारना, कमिश्नर को ​कुर्सी से गिरा देना, हम लोगों का काम था। कलेक्टर को एक तमाचा मार दिया जाए, तो सालभर नेतागीरी, दो साल की नेतागीरी हो जाती थी। पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें...

सांसद मिश्रा ने PM नरेंद्र मोदी की दाढ़ी पर भी टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था, देश में सबको PM आवास न मिल जाएगा, तब तक मोदी की दाढ़ी से PM आवास झड़ते रहेंगे।
सांसद मिश्रा ने PM नरेंद्र मोदी की दाढ़ी पर भी टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था, देश में सबको PM आवास न मिल जाएगा, तब तक मोदी की दाढ़ी से PM आवास झड़ते रहेंगे।

रीवा सांसद जनार्दन मिश्रा PM नरेन्द्र मोदी की दाढ़ी से जोड़कर भी टिप्पणी कर चुके हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के कार्यक्रम में कहा था कि जब तक इस देश में सबको PM आवास न मिल जाएगा, तब तक मोदी की दाढ़ी से PM आवास झड़ते रहेंगे। वे एक बार अपनी दाढ़ी को फटकारते हैं तो 50 लाख घर निकलते हैं। पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें...

खबरें और भी हैं...