बिसाहूलाल सिंह की वीडियो कॉन्फ्रेंस:रीवा की जिला क्राइसिस मैनेजमेंट से प्रभारी मंत्री ने किया वर्चुअल संवाद, कहा- कोरोना से निपटने के लिए पूरी तैयारी रखें

रीवा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रीवा जिले के प्रभारी मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने गुरुवार को जिला क्राइसिस मैनेजमेंट से वर्चुअल संवाद किया। वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से कहा कि कोरोना से निपटने के लिए रीवा जिले में पूरी तैयारी रखें। क्योंकि कोरोना संकट के पहले और दूसरे दौर में जन सहयोग के द्वारा कोविड नियंत्रण का शानदार कार्य रीवा ने किया था। लेकिन अब प्रदेश के कई जिलों में कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है। इससे तीसरी लहर का खतरा पैदा हो गया है।

ऐसे में छोटे से लेकर बड़े अस्पतालों में बेड, दवाओं की आपूर्ति, कोरोना सेंपल की जांच, ऑक्सीजन की आपूर्ति आदि व्यवस्थाएं कलेक्टर सुनिश्चित करें। साथ ही जिला आपदा प्रबंधन दल के जिम्मेदार विकासखण्ड और ग्राम स्तर के आपदा प्रबंधन दलों की बैठक लें। उनसे प्राप्त सुझावों के अनुसार कोरोना से लड़ने के उपाय करें। इस दौरान प्रभारी मंत्री ने आपदा प्रबंधन दल के सदस्यों से कोरोना नियंत्रण के संबंध में विस्तृत चर्चा की।

बाहर से आने वालों की सीमा पर हो जांच
प्रभारी मंत्री ने कहा कि रीवा में टीकाकरण का कार्य अच्छा हुआ है। बच्चों का टीकाकरण भी लक्ष्य के अनुसार कराएं। सार्वजनिक स्थल पर मास्क का उपयोग, फिजिकल दूरी के उपाय करें। जिले में अन्य प्रदेशों से आने वाले व्यक्तियों की सीमा पर जांच हो। फीवर क्लीनिक में सर्दी-खांसी से पीड़ितों के सेंपल ले व उपचार दिलाएं। प्रभारी मंत्री ने सीटी स्कैन मशीन, एंबुलेंस और अन्य उपचार सामग्रियों के संबंध में भी निर्देश दिए।

सीमावर्ती क्षेत्रों में अधिक सतर्कता की जरूरत
त्योंथर विधायक श्यामलाल द्विवेदी ने कहा कि सीमावर्ती क्षेत्रों में अधिक सतर्कता की जरूरत है। सिरमौर विधायक दिव्यराज सिंह ने कहा कि रीवा में पिछले दो वर्षों में स्वास्थ्य सेवाएं बहुत बेहतर हो गई हैं। कलेक्ट्रेट के बाणसागर कक्ष से भाग लेते हुए कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने बताया कि मेडिकल कालेज में 792 बेड और सुपर स्पेशलिटी हास्पिटल में 200 बेड उपलब्ध हैं। दवाएं, ऑक्सीजन संयंत्र, सीटी स्केन मशीन की स्थापना, एंबुलेंस आदि की पूरी व्यवस्था हो गई है।

ये भी आए सुझाव
डॉ. हरिशचन्द्र द्विवेदी ने कोरोना से लड़ने के लिए योग एवं त्रिकुट काढ़े के उपयोग को बढ़ावा देने का सुझाव दिया। कमलेश सचदेवा ने दुकानों में मास्क न लगाने वाले ग्राहकों को सामग्री न देने का सुझाव दिया। कलेक्ट्रेट के बाणसागर सभागार में वीडियो कान्फ्रेंसिंग में निगमायुक्त मृणाल मीणा, मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. मनोज इंदुरकर, सीएमएचओ डॉ. बीएल मिश्रा, डॉ. सुनील अवस्थी और आपदा प्रबंधन दल के सदस्य शामिल हुए।

खबरें और भी हैं...