• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Rewa
  • Raunak Upvan: After The Death Of Rewa SS Medical College Student, Friends Built A Park, Named Raunak Upvan

दोस्त हों तो ऐसे:रीवा में नहर में नहाने गए MBBS के छात्र की डूबकर हो गई थी मौत, उसे पेड़-पौधों से लगाव था, इसलिए कैंपस में बनाया पार्क; नाम दिया 'रौनक' उपवन

रीवा7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शुभारंभ के लिए तैयार रौनक उपवन। - Dainik Bhaskar
शुभारंभ के लिए तैयार रौनक उपवन।

रीवा मेडिकल कॉलेज के MBBS छात्रों ने मिसाल पेश की है। अपने दिवंगत दोस्त की याद में उन्होंने कैंपस में पार्क ही बना दिया। साथी छात्र की नहर में डूब कर मौत हो गई थी। चूंकि उसे पेड़-पौधों से लगाव था, इसलिए दोस्तों ने श्रमदान कर पेड़-पौधे लगाए। पार्क पूरी तरह तैयार है। रौनक के माता-पिता और परिवार वाले इसका शुभारंभ भी कर चुके हैं।

बता दें​ कि डॉ. रौनक भंडारी मध्यप्रदेश के खरगोन​ जिले के रहने वाले थे, जो श्याम शाह मेडिकल कॉलेज में MBBS फाइनल ईयर का स्टूडेंट था। एग्जाम के बाद 6 मार्च 2021 की शाम डॉ. रौनक भंडारी दोस्तों के साथ सिलपरा नहर में पिकनिक मनाने गया था। नहर में सभी दोस्त नहाने के लिए उतरे। इसी बीच, रौनक पानी के तेज बहाव में बह गए। पानी में डूबने से उसकी मौत हो गई।

डॉक्टर रौनक भंडारी (काली जैकेट में) के साथ डॉक्टर गर्वित गर्ग (नीली शर्ट पहने)।
डॉक्टर रौनक भंडारी (काली जैकेट में) के साथ डॉक्टर गर्वित गर्ग (नीली शर्ट पहने)।

पौधों से था प्यार
रौनक के दोस्त डॉ. गर्वित गर्ग ने बताया कि वह अक्सर पर्यावरण की बात करते थे। साथ ही, मेडिकल की पढ़ाई के समय साथियों के बीच पर्यावरण प्रेमी के रूप में पहचान थी। सहपाठियों का कहना है कि वह होस्टल से लेकर कॉलेज तक सहज स्वभाव का था। उसे पौधों से बेहर प्यार था। ऐसे में दोस्तों ने तय किया, रौनक की याद में कॉलेज परिसर के अंदर पौधे तैयार किए जाएं।

सेमेस्टर पूरा होने की खुशी मातम में बदली:दोस्तों के साथ नहाने गया मेडिकल स्टूडेंट सिलपरा नहर में डूबा, SDRF ने 18 घंटे बाद शव बरामद किया

2016 के बैच ने गोद लिया पार्क
मेडिकल कॉलेज के सीनियर छात्रों ने बताया, वर्ष 2016 बैच के सभी छात्रों ने इस पार्क को गोद लिया है। खासकर क्लास के 100 दोस्तों ने तैयार किया है। वहीं, शुरुआती दौर में मेडिकल प्रबंधन और सीनियर छात्रों की सहमति के बाद श्रमदान से पार्क बनाने का निर्णय लिया गया था। फिर कॉलेज के सीनियर डॉक्टरों ने मार्गदर्शन कर पार्क को रौनक उपवन बना दिया। इसे तैयार कराने में दोस्तों से लेकर मेडिकल प्रबंधन ने फूलों के साथ ही फलदार पौधे भी लगाए गए हैं।

परिवार वालों ने किया शुभारंभ
रौनक के दोस्त डॉ. गर्वित गर्ग ने बताया, पार्क तैयार करने के बाद डॉ. रौनक भंडारी के परिवार वालों को सूचना दी गई थी। वह 21 जून को आकर पार्क का शुभांरभ कर चुके हैं। इस दौरान डॉ. रौनक भंडारी के पिता गिरिराज भंडारी, चाचा विशाल भंडारी, चाचा योगेश सराफ और भाई राज भंडारी उस दिन आए थे। उन्होंने इस पार्क की तारीफ भी की।

खबरें और भी हैं...