रीवा सेंट्रल जेल में कैदी को ब्लेड मारा:इंदौर के बंदियों के बीच गैंगवार, कहासुनी के बाद ब्लेड से हमला; दो दिन बाद FIR

रीवा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।

रीवा की केंद्रीय जेल में एक कैदी पर ब्लेड से हमला हुआ है। जेल सूत्रों की मानें तो आपसी विवाद को लेकर इंदौर के बंदियों के बीच गैंगवार हुआ था। हमले के समय दो बंदियों ने एक कैदी को पकड़कर ब्लेड से ताबड़तोड़ तीन वार किए। जैसे ही जेल प्रबंधन को मामले की भनक लगी तो पहले पर्दा डालने का प्रयास किया गया।

लेकिन, ब्लेड के घाव को देखते हुए जेल में ही प्राथमिक उपचार कराया। बाद में एसजीएमएच में उपचार के लिए ले जाया गया। अब हत्या के आरोपी के घाव ठीक है। अमहिया पुलिस ने दो दिन बाद विवेचना कर आईपीसी की धारा 294, 324 का मामला दर्ज कर लिया है।

अमहिया थाना प्रभारी शिवा अग्रवाल ने बताया कि रविवार की दोपहर इंदौर जेल से रीवा केन्द्रीय जेल शिफ्ट हुए हत्या के आरोपी शकील उर्फ चच्चा पर रोशन गुर्जर और खालिक मोहम्मद दोनों निवासी इंदौर ने हमला कर दिया। इंदौर के शातिर अपराधियों के बीच हुए गैंगवार के बाद जेल में हड़कंप मच गया।

जेल प्रबंधन ने घायल शकील को उपचार के लिए संजय गांधी हॉस्पिटल भेजा। जहां प्राथमिक उपचार कर उसी दिन छुट्टी दे दी गई थी। इधर जेल प्रबंधन ने सोमवार को घटना की लिखित शिकायत अमहिया थाने को दी। तब मंगलवार की शाम मामले की जांच कर वरिष्ठ अधिकारियों से मार्गदर्शन लेने के बाद रोशन गुर्जर और खालिक मोहम्मद के खिलाफ प्रकरण कायम कर लिया गया है।

जेल में बैठे-बैठे बुलाए थे शूटर
घायल शकील के खिलाफ रीवा में भी एक अपराध दर्ज है। अमहिया थाना क्षेत्र में जददू खान के ऊपर इंदौर से शूटर बुलाकर फायर कराया था। 20 जनवरी 2020 की इस घटना में जेल के अंदर से शूटर की व्यवस्था करने पर शकील के खिलाफ 307 का मामला कायम है।

खबरें और भी हैं...