पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Rewa
  • RTO Caught The Buses Of Pooja Travels And Vijayant Travels Going From Rewa To Nagpur, Despite The Ban, The Passengers Were Going To Other States

MP में कोरोना बांटती बस का मामला:रीवा से नागपुर जा रही पूजा ट्रैवल्स और विजयंत ट्रैवल्स की बसों को आरटीओ ने पकड़ा, प्रतिबंध के बावजूद सवारियों को लेकर जा रही थी दूसरे राज्य

सतना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नागपुर जा रही पूजा ट्रैवल्स की बस को पकड़ा परिवहन अमला। - Dainik Bhaskar
नागपुर जा रही पूजा ट्रैवल्स की बस को पकड़ा परिवहन अमला।
  • दैनिक भास्कर की खबर के बाद हरकत में आया था परिवहन विभाग

मध्यप्रदेश के रीवा से चलकर महाराष्ट्र के नागपुर जा रही पूजा ट्रैवल्स और विजयंत ट्रैवल्स की बसों को आरटीओ ने मंगलवार की रात चेकिंग लगाकर चोरहटा और नए बस स्टैंड के पास पकड़ा है। बता दें कि इसके पहले दैनिक भास्कर ने मंगलवार की सुबह '' प्रतिबंध के बाद भी रीवा से नागपुर तक फर्राटे भर रही बसें, 50 सीटर बस में करीब 126 लोगों को बैठाया; मनमाना किराया भी वसूला'' के अंक से खबर प्रकाशित की थी। जिसके बाद हरकत में आए परिवहन अधिकारी मनीष त्रिपाठी के नेतृत्व में परिवहन सुरक्षा स्क्वाड प्रभारी अलीम खान द्वारा आल इंडिया बसों के विरुद्ध सघन चेकिंग अभियान चलाया। तभी रात करीब 8.30 बजे दो जगहों पर नागपुर जाने वाली बसों को पकड़कर यात्रियों को उतारे हुए सबको लौटा दिया है।

MP में कोरोना बांटती बस, देखें VIDEO:प्रतिबंध के बाद भी रीवा से नागपुर तक फर्राटे भर रही बसें, 50 सीटर बस में करीब 126 लोगों को बैठाया; मनमाना किराया भी वसूला

ज्ञात हो मध्यप्रदेश में अंतर्राज्यीय बसो का संचालन, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तरप्रदेश के लिए पूर्णत: प्रतिबंधित है। इसके बावजूद पूजा ट्रैवल्स, विजयंत ट्रैवल्स की बसें रीवा से नागपुर के लिए जा रही थी। दोनों बसों को चोरहटा और नए बस स्टैंड पर पकड़ कर कार्यवाही की गई। परिवहन अधिकारी मनीष त्रिपाठी ने जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यालय के आदेशानुसार अन्तराजीय बसों के विरुद्ध यह सघन चेकिंग अभियान निरंतर जारी रहेगा। वहीं भास्कर को आरटीओ मनीष त्रिपाठी ने बताया कि पूछताछ में चालक व परिचालकों का कहना था कि वे लोग बस को लेकर नागपुर तक नहीं जाते है। सिवनी जिले से पलटी देकर नागपुर से आने वाली बसों के यात्रियों को लेकर पुन: रीवा लौट आती है।​ फिर भी परिवहन अधिकारी ने किसी की एक नहीं सुनी है। दोनों बसों को जब्त कर सवारियों को लौटा दिया है।

परिवहन अमले को नहीं थी जानकारी
आरटीओ ने बताया कि परिवहन कमिश्नर ग्वालियर द्वारा 15 जून तक के लिए अंतर राज्यीय बसों के परिचालन पर प्रतिबंधित किया था। बावजूद कुछ बसें चोरी छिपे जा रही थी। जिनको औचक निरीक्षण कर पकड़ लिया गया है। अब रोजानो सुबह शाम हाईवे में चेकिंग लगाकर इस तरह की बसों को पकड़ा जाएगा।

126 यात्रियों को बैठाकर ले जाने का वीडियो हुआ था वायरल
राजेश्वरी तिवारी ​का नागपुर इलाज कराने गए मृदुल तिवारी ने बताया कि रात करीब 8.30 बजे विजयंत ट्रैवल्स की बस रीवा बस स्टैंड से रवाना हुई थी। उस समय बस स्टैंड से ही स्लीपर बस में करीब 82 लोग सवार थे। फिर बाइपास में करीब 9 बजे 15 लोग और सवार हुए। इसी तरह अमरपाटन में 3 लोग और बैठाए गए। फिर मैहर में तो परिचालक ने हद ही कर दी। यहां करीब 26 लोग बैठाकर नागपुर तक ले जाए गए। वीडियाे बनाने वाले का दावा है, यह 56 सीटर स्लीपर बस में रीवा बस स्टैंड से रवाना हुई थी। जिसमें 126 यात्रियों को बैठाकर नागपुर तक ले जाया गया है।

खबरें और भी हैं...