पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Rewa
  • Suspect Who Escaped From Outpost Police Vehicle Dies During Treatment, SP Suspends Entire Outpost Stop, PM Happened In Presence Of Judicial Magistrate

पुलिस की गाड़ी से भागने की कोशिश में मौत:कच्ची शराब के साथ दो लोगों को पकड़ा, गाड़ी से कूदकर भागने के चक्कर में हुआ घायल, अस्पताल में मौत; चौकी के स्टाफ निलंबित किया

रीवा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
संजय गांधी अस्पताल में बिलखते मृतक संदेही के परिजन। - Dainik Bhaskar
संजय गांधी अस्पताल में बिलखते मृतक संदेही के परिजन।

रीवा में पुलिस वाहन से कूदकर भागने वाले संदेही की इलाज के दौरान गुरुवार की सुबह संजय गांधी ​स्मृति अस्पताल में मौत हो गई। मंगलवार सुबह 15 लीटर कच्ची शराब के साथ दो आरोपियों को पुलिस ने पकड़ा था। दोनों आरोपियों को चौकी पुलिस वाहन के पीछे बैठाया था। इसी बीच, एक आरोपी रास्ते में कूदकर गंभीर रूप से घायल हो गया था।

आनन फानन में पहले नईगढ़ी के अस्पताल फिर रीवा रेफर कर दिया गया था। यहां दो दिन बाद इलाज के दौरान संदेही की मौत हो गई। इस मामले में रीवा एसपी राकेश कुमार सिंह ने पुलिस की लापरवाही मानते हुए रामपुर चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक कमलेश बड़कडे सहित 4 सिपाहियों को सस्पेंड कर दिया था। साथ ही संदेही की मौत के बाद न्यायिक मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में पीएम कराया जा रहा है।

न्यायिक मजिस्ट्रेट की मौजूदगी हुआ पीएम
बवाल को देखते हुए कलेक्टर के आदेश पर न्यायिक मजिस्ट्रेट जेएमएफसी न्यायाधीश महेन्द्र सिंह उइके की मौजूदगी में मृतक राजेश साकेत (28) निवासी बड़ेरा का पीएम संजय गांधी अस्पताल में कराया गया है। साथ ही शुरू से अंत तक की फोटो ग्राफी और वीडियो ग्राफी कराई गई है। वहीं पीड़ित परिवार को हर संभव मदद करने कलेक्टर, एसपी, एएसपी भारी पुलिस बल के साथ हर स्थितियों में नजर रखें है।

न्यायिक मजिस्ट्रेट महेन्द्र सिंह उइके पहुंचे अस्पताल।
न्यायिक मजिस्ट्रेट महेन्द्र सिंह उइके पहुंचे अस्पताल।

देर रात एसपी ने किया निलंबित, सुबह संदेही की मौत
पुलिस सूत्रों का दावा है कि मउगंज एएसपी विजय डाबर की ​जांच में प्रथम दृष्टया चौकी प्रभारी समेत चार आरक्षकों को दोषी पाया गया था। एएसपी का मानना था कि मामूली से केस में पुलिस आरोपियों को क्यों थाने लेकर जा रही थी। ऐसे में एसपी राकेश सिंह ने रामपुर चौकी प्रभारी सहित 5 ​लोगों को निलंबित कर दिया है। वहीं गुरुवार की दोपहर तक पूरे चौकी के स्टाप को हटाकर नया पुलिस बल तैनात किया गया है।

मजिस्ट्रीयल जांच के आदेश
राजेश साकेत की अस्पताल में उपचार के दौरान हुई मौत पर कलेक्टर डॉ. इलैया राजा टी ने मजिस्ट्रीयल जांच के आदेश दिए है। मृतक के पिता ने कलेक्टर से पूरे मामले की जांच की मांग की थी। ऐसे में न्यायिक मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में पीएम कराते हुए मजिस्ट्रीयल जांच की बात कही है। आला अधिकारियों का दावा है कि पुलिस की लापरवाही के चलते एक युवक की मौत हो गई। जिसके बाद 5 बच्चे अनाथ हो गए।

कलेक्टर ने दिलाई रेडक्रॉस से मदद
म्रतक के परिजनों को रेडक्रॉस से आर्थिक मदद दी जाएगी। साथ ही कलेक्टर ने सीओ नईगढ़ी को शासन की ओर से आर्थिक मदद देने के निर्देश दिए है। वहीं गरीबी रेखा में में होने के चलते शासन की योजनाओं के लाभ दिलाने की बात कही है।

पुलिस वाहन से छलांग:रीवा पुलिस की गाड़ी से शराब तस्करी के संदेही ने लगाई छलांग, हालत गंभीर, ICU में भर्ती

यह है पूरा मामला
एएसपी विजय डाबर ने बताया कि मंगलवार की सुबह करीब 9 बजे रामपुर चौकी पुलिस मुखबिर की सूचना पर भीर गांव शराब पकड़े गई थी। यहां पर आरोपी राजेश साकेत (28) निवासी बड़ेरा और उसके साथी छोटे लाल साकेत को बाइक में 15 लीटर कच्ची शराब ले जाते हुए पकड़ा गया था। ऐसे में पुलिस के दो आरक्षक जब्त बाइक को पीछे पीछे व चौकी प्रभारी सहित तीन आरक्षक शराब जब्त कर दो​नों संदेहियों को चार पहिया वाहन में बैठाकर चौकी लेकर जा रहा थी। तभी केस के डर से एक संदेही राजेश साकेत अचानक गेट खोलकर वाहन से कूद गया। हादसे में युवक जख्मी हो गया। जिसको तुरंत नईगढ़ी अस्पताल में प्राथमिक उपचार कराने के बाद रीवा के संजग गांधी अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया है। जहां तीसरे दिन उसकी मौत हो गई।

खबरें और भी हैं...