• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Rewa
  • Teenager Who Went To Feed Goat In Rewa Drowned In Bansagar Canal, SDRF Recovered Dead Body

हाथ-पैर धोते समय हुआ हादसा:रीवा में बकरी चराने गया किशोर बाणसागर की नहर में डूबा, 19 घंटे बाद SDRF ने बरामद किया शव

रीवा9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक किशोर - Dainik Bhaskar
मृतक किशोर

रीवा जिले के चोरहटा थाना अंतर्गत नौबस्ता चौकी के छीजवार गावं स्थित बाणसागर नहर में डूबे किशोर का शव बरामद कर लिया गया है। पुलिस के मुताबिक बीते दिन हादसे की सूचना ग्रामीणों ने दी थी। ऐसे में तुरंत नौबस्ता चौकी पुलिस मौके पर पहुंचकर स्थानीय गोताखोरों की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया, लेकिन सफलता नहीं मिली। जिससे पुलिस के आला अधिकारियों को अवगत कराया गया।

तब देर शाम होमगार्ड के गोताखोर व एसडीआरएफ टीम स्टीमर की मदद से दो किम़ी. दूर तक नहर की सर्चिंग की। लेकिन रात में ज्यादा अंधेरा हो जाने पर रेस्क्यू रोक दिया गया। इसके बाद दूसरे दिन सुबह से रेस्क्यू शुरू हुआ तो घटनास्थल से 200 मीटर दूर किशोर का शव बरामद हो गया है। चौकी पुलिस ने पंचनामा कार्रवाई के बाद शव को पीएम के लिए संजय गांधी अस्पताल भेजवा दिया है।

रात में रेस्क्यू ऑपरेशन करती टीम
रात में रेस्क्यू ऑपरेशन करती टीम

चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक अंकिता मिश्रा ने बताया कि रविवार की दोपहर अभिषेक नट पुत्र अनुराग नट (11) निवास छीजवार गांव से निकलने वाली नहर के पास बकरी चरा रहा था। तभी करीब तीन बजे के आसपास अभिषेक नहर में हाथ-पैर धोने के लिए उतरा। इसी बीच उसका पैर फिसला और नहर में जा गिरा। हादसे में देखते ही देखते अभिषेक डूबकर बहने लगा। जब कुछ दूर बहकर अभिषेक पहुंचा तो अन्य ग्रामीणों ने देख लिया। लेकिन नहर की ज्यादा गहराई होने के कारण अभिषेक को नहीं बचा पाए।

परिजन और चौकी को दी सूचना
दुर्घटना के बाद ग्रामीणों ने परिजनों व पुलिस को जानकारी दी। सूचना के बाद नौबस्ता चौकी का पुलिस बल मौके पर पहुंचा। जिन्होंने घटनास्थल को देखकर स्थानीय लोगों की मदद से तलाश शुरू कराई। फिर अंतत: जिला मुख्यालय को अवगत कराते हुए होमगार्ड व एसडीआरएफ टीम को बुलाया।

दूसरे दिन मिली सफलता
दावा है कि रविवार को देर शाम एसडीआरएफ टीम छीजवार गांव स्थित बाणसागर नहर से पास पहुंचकर रेस्क्यू ऑपरेशन किया था। लेकिन ज्यादा रात होने के कारण किशोर का शव नहीं दिखा। फिर जैसे ही सोमवार की सुबह 6 बजे से उजाला हुआ। वैसे ही रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया तो सुबह 10 बजे तक सफलता मिल गई।

खबरें और भी हैं...