पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Rewa
  • The Consignment Of Ganja Coming From Orissa To Rewa Was Caught, The Ganja Worth 2.25 Crores Came Out In The Search, The Cabin Behind The Driver Was Modified

कंटेनर से गांजा की तस्करी:ओडिशा से रीवा आ रही गांजे की खेप पकड़ाई, तलाशी में निकला 2.25 करोड़ का गांजा, ड्राइवर के पीछे बनी केबिन को मॉडिफाई कर रखा था माल

रीवा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस कंट्रोल रूम में जब्त कंटेनर को देखती पुलिस टीम। - Dainik Bhaskar
पुलिस कंट्रोल रूम में जब्त कंटेनर को देखती पुलिस टीम।
  • रीवा रेंज के आईजी उमेश जोगा ने नार्कोटिक्स टीम व मुखबिर की सूचना पर कंटेनर को किया जब्त, बंद कार में आगे आगे चल रहे थे तस्कर

कंटेनर में लोड होकर ओडिशा से मध्यप्रदेश के रीवा शहर आ रही गांजे की एक बड़ी खेप को रीवा रेंज के आईजी उमेश जोगा ने नारकोटिक्स टीम के सहयोग से पकड़ी है। दावा किया जा रहा है कि मुखबिर की सूचना पर आईजी, डीआईजी और एसपी के नेतृत्व में टीम गठित ​की गई। यहां शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात में गोविन्दगढ़ रोड पर तीन अलग-अलग स्थानों पर पुलिस पार्टी लगाई गई थी।

इस टीम की मुख्य अगुवाई थाना प्रभारी बिछिया उप निरीक्षक जगदीश सिंह ठाकुर, रायपुर कर्चुलियान थाना प्रभारी उप निरीक्षक मृगेन्द्र सिंह एवं अमहिया थाना प्रभारी उप निरीक्षक शिवा अग्रवाल अपनी-अपनी टीमों के साथ नाकाबंदी किए हुए थे। जहां एक संदिग्ध कार दिखी तो आरोपी पुलिस को चकमा दे दिए। फिर भी पुलिस ने पीछाकर कार को पकड़ लिया।

जिसकी तलाशी में करीब 1 ​क्विंटल गांजा मिला। पूछताछ में पता चला कि करोड़ों रुपए का माल पीछे वाले कंटेनर में आ रहा है। जिसको घेराबंदी कर पकड़ लिया गया। जिसकी तलाशी में करीब 14 क्विंटल गांजा मिला। गिरफ्तार 6 आरोपी और दो वाहन मालिकों के खिलाफ एन.डी पी.एस.एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।

पुलिस कंट्रोल रूम में खुलासा करते आईजी उमेश जोगा।
पुलिस कंट्रोल रूम में खुलासा करते आईजी उमेश जोगा।

अंतर्राज्यीय गिरोह का पर्दाफाश
आईजी उमेश जोगा ने खुलासा करते हुए कहा कि नारकोटिक्स टीम और मुखबिरों से सूचना प्राप्त हुई थी। पता चला था कि ओडिशा से एक बड़ी गांजे की खेप आ रही है। जो कि एक कंटेनर में रख कर लाया जा रहा है। कंटेनर के आगे एक फॉलो वाहन भी है। जिसमें मुख्य तस्कर भी बैठे हुए हैं। इस सूचना पर तत्काल पुलिस टीमों का गठन किया गया। सूचना के बाद शुक्रवार की दरम्यानी रात गोविन्दगढ़ रोड पर अलग अलग स्थानों पर पुलिस पार्टी लगाई गई। तभी सिलपरा बाईपास के पास एक कार दिखी। जो रैकी करते हुए आ रही थी। जिस कार ने पुलिस की गाड़ी को देखकर अपनी स्पीड बढ़ा दी। तब पुलिस ने उस कार को जान जोखिम में डालकर रोंका है। कार की तलाशी में दो व्यक्ति पकड़ में आए थे। जहां पर एक व्यक्ति का नाम अनंत पटेल, दूसरे का नाम आनंद साकेत था।

मटमैले रंग के कंटेनर ने उगला माल
तभी पीछे से आ रहे एक मटमैले रंग के कंटेनर को पुलिस ने रोका। जिसका नंबर यूपी 21 एएन 5455 था। पूछताछ में चालक का नाम वसीम खान, खलासी का नाम यूनुस खान बताया गया। वहीं कंटेनर के अंदर दो व्यक्ति बैठे थे। जिनका नाम राजेश सिंह और विक्रम सिंह था। दोनों वाहनों की तलाशी में कार की डिग्गी से 1 क्विंटल गांजा जब्त हुआ। इसके अलावा कण्टेनर से 14 क्विंटल गांजा पाया गया। जबकि कार के मालिक का नाम प्रतीक सिंह उर्फ कल्लू पिता बीरभान सिंह निवासी मऊ थाना सेमरिया होना पाया गया। वहीं कण्टेनर के मालिक का नाम बब्बू उर्फ निशार पिता जुम्मा निवासी कब्रिस्तान के पास जगतपुरी रूस्तम नगर साहसपुर मुरादाबाद उप्र के नाम पर आरटीओ में रजिस्ट्रेशन था।

पुलिस द्वारा जब्त कंटेनर व इनसेट में केविन के ऊपर मॉडिफाई वाला ऐरिया।
पुलिस द्वारा जब्त कंटेनर व इनसेट में केविन के ऊपर मॉडिफाई वाला ऐरिया।

तस्करी के लिए कंटेनर को कराया था मॉडिफाई
पूछताछ में चालक ने बताया कि अक्सर पुलिस ट्रक के अंदर बाहर और पीछे देखती है। लेकिन कुछ ऐसी जगह को मॉडिफाई कर दिया जाए तो कभी नजर नहीं पड़ती है। ऐसे में ड्राइवर सीट के पीछे वाले एरिया को ट्रक के पहिए के नीचे की ओर से मॉडिफाई कर बाडी बनवाई थी। जहां पर करीब 14 क्विंटल गांजा छिपाया था। वहां पर कुल 65 बोरियों में 750 पैकेट थे। प्रत्येक पैकेट का वजन 2 किलो था। भूरे रंग के टेप से पैक किए हुए गांजे की कीमत करीब 2.25 करोड़ रुपए है। लेकिन चालकों ने पुलिस की चेकिंग से बचने के लिए जो तरीका अपनाया वह आईजी के नजरों से नहीं बच पाया।

ये आरोपी हुए गिरफ्तार
बताया गया कि जिन आरोपियों को पुलिस ने पकड़ा है। उनमें अनंत पटेल पिता ददन प्रसाद (34) निवासी बीणा थाना सेमरिया, आनंद साकेत पिता बेनी (35) निवासी बीणा थाना सेमरिया, वसीम खान पिता सकील (25) निवासी शैसपुर बिलारी थाना बिलारी जिला मुरादाबाद, यूनुस खान पिता छोटे (19) निवासी सतारंज थाना बिलारी जिला मुरादाबाद, राजेश सिंह बघेल पिता लालमणि (42) निवासी बीणा थाना सेमरिया, विक्रम सिंह वैश पिता छोटेलाल (46) निवासी गाजन थाना रामपुर बाघेलान जिला सतना को पकड़ा गया है। वहीं आरोपियों की निशानदेही पर 15 क्विंटल गांजा कीमती 2.25 करोड़ रुपए, कार क्रमांक एमपी 17 सीसी 6001 कीमती 6 लाख, कंटेनर क्रमांक यूपी 21 एएन 5455 कीमती करीबन 50 लाख, 5 नग मोबाइल कीमती 14 हजार बताई गई है।

खबरें और भी हैं...