पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बैंक में सेंधमारी का खुलासा:पीएनबी बैंक में चोरी का प्रयास करने वाले दो आरोपी गिरफ्तार, पहले ही अपराध में पहुंच गए सलाखों के पीछे

रीवा19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पंजाब नेशनल बैंक की त्योंथर शाखा का मुख्य गेट, जहां पर हुई थी सेंधमारी। - Dainik Bhaskar
पंजाब नेशनल बैंक की त्योंथर शाखा का मुख्य गेट, जहां पर हुई थी सेंधमारी।
  • सोहागी थाना अंतर्गत पंजाब नेशनल बैंक की त्योंथर शाखा का मामला

एक सप्ताह पहले सोहागी थाना अंतर्गत पंजाब नेशनल बैंक की त्योंथर शाखा में आधी रात चोरी का प्रयास करने वाले दो आरोपी सलाखों के पीछे पहुंच गए है। बताया गया कि वारदात के बाद से सोहागी पुलिस ने मुखबिर को सक्रिय कर दिए थे। साथ ही सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों की तलाश की जा रही थी। तभी एक संदेही ने वारदात में दो लोगों के शामिल होने की कहानी को बयां की। जिसके बताए अनुसार पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

साथ ही उनकी निशानदेही पर पुलिस ने एक बाइक पैशन प्रो, एक लोहे का सबरी, हैंड सेनीटाईजर, चेहरा छिपाने के लिये उपयोग किया चश्मा व घटना के वक्त पहने हुए कपड़े व जूता बरामद कराए है। खुलासा करने वाली टीम में सोहागी थाना प्रभारी उपनिरीक्षक पवन शुक्ला, त्योंथर चौकी प्रभारी एसआई संजीव शर्मा, एसआई अभिषेक पटेल, प्रआर रामविरजन रावत, आर आशुतोष मिश्रा, राहुल कुमार, विकर्ण सिंह की सराहनीय भूमिका रही।

रीवा के PNB बैंक में सेंधमारी:बैंक में होल बनाकर दाखिल हुए बदमाश, लॉकर तोड़ते समय हो गया सवेरा, इसलिए नहीं कर पाए चोरी

मिली जानकारी के मुताबिक फरियादी सौरभ कुमार गुप्ता पिता सुनील कुमार गुप्ता (27) निवासी भीठी कोतवाली जिला मऊ उप्र हाल निवास पीएनबी बैंक पचामा ने शिकायत दर्ज कराई। उसने बताया कि 29 मई की आधी रात अज्ञात आरोपियों ने पीएनबी बैंक में सेंधमारी की है।

शातिर लोग दीवार तोड़कर बैंक के अंदर प्रवेश किए थे। जिन्होंने सबसे पहले कैश काउंडर की बिंडों का तहस नहस किया था। इसके बाद लॉकर की ओर पहुंचे थे। लेकिन सुबह हो जाने के कारण वारदात नहीं कर पाए। साथ ही बैंक में रखा रुपया सुरक्षित बच गया था। तब सोहागी पुलिस ने अपराध क्रमाक 132/2021 धारा 457,380,411 ताहि का प्रकरण कायम कर अज्ञात आरोपी के खिलाफ तलाश शुरू की थी। साथ ही पीएनबी बैंक के अंदर लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला था।

लीक कर दिए थे किसी से बात
मुखिबर ने पुलिस से दावा किया था कि बैंक में सेंधमारी करने के बाद आरोपियों ने किसी से अपनी करतूत बता दी थी। क्योंकि वे नए नवेले लोग अपराध की दुनिया में कदम रखने वाले थे। लेकिन पहले ही अपराध में एक छोटी सी भूल कर दी। जिसकी सूचना मुख​बिर को मिल गई और वह पुलिस को पहुंचा दिए। ऐसे में आरोपी अमित कुमार आदिवासी पिता रामनरेश (18) निवासी शाहपुर व राजकुमार यादव पिता राजकरण (20) निवासी हनुमानगंज थाना सोहागी को पुलिस ने धर दबोचा। साथ ही साक्ष्य अधिनियम 27 कथन मेमोरेण्डम लेकर उक्त दिनाक घटना में प्रयुक्त बाइक, एक लोहे का सबरी, हैंड सेनीटाईजर, नकाब, चश्मा और वारदात के समय पहने हुए कपड़े व जुते जब्त किए गए। इसके बाद त्योंथर न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया।

खबरें और भी हैं...