आक्रोशित परिजनों ने किया चक्काजाम:रीवा में दुकान जा रहे बाइक सवार को अज्ञात वाहन ने मारी ठोकर, सिर फटने से गंभीर, SGMH में मौत

रीवा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रीवा जिले के सिरमौर थाना अंतर्गत चचाई गांव में हुए हादसे में गंभीर रूप से घायल युवक ने SGMH में दम तोड़ दिया है। पुलिस के मुताबिक युवक अपने घर से 500 मीटर दूर किराना का सामान लेने जा रहा था। लेकिन रास्ते में बेलगाम वाहन ने टक्कर मारकर लहूलुहान कर दिया। मौके पर मौजूद लोगों का दावा है कि तेज रफ्तार वाहन का झटका लगने से युवक का सिर फट गया।

रक्त रंजिश युवक को तुरंत संजय गांधी अस्पताल ले जाया गया। लेकिन चिकित्सकों ने नब्ज टटोलते ही मृत घोषित कर दिया। मौत की सूचना के बाद चौकी पुलिस ने शव को मर्चुरी में रखावाया। अब पीएम उपरांत शनिवार की दोपहर परिजनों को डेड बॉडी सौंप दी जाएगी।

मिली जानकारी के मुताबिक शुक्रवार की रात 7 से 8 बजे के बीच दिलीप गौतम पुत्र स्वर्गीय संपत गौतम (35) निवासी चचाई गांव स्थित दुकान जा रहे थे। चर्चा है कि रोड क्रॉस करते समय अज्ञात वाहन ने बाइक को टक्कर मार दी। ठोकर लगते ही दिलीप का सिर फट गया। साथ ही पूरी सड़क खून से नहा गई।

हादसे के बाद ग्रामीण चचाई चौकी पहुंचे, लेकिन रात 10 बजे तक ताला बंद रहा। ऐसे में आक्रोशित होकर परिजन रात में ही चक्काजाम कर दिया। जबकि अन्य ग्रामीण निजी कार से युवक को लेकर संजय गांधी अस्पताल पहुंचे। जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया।

रात 11.30 बजे तक चला बवाल
मृतक दिलीप गौतम के परिजनों ने अज्ञात वाहन चालक को पकड़े व मुआवजे की मांग को लेकर सेमरिया-सिरमौर मार्ग में चक्काजाम कर दिया। जाम की सूचना पर सेमरिया थाना प्रभारी निरीक्षक अशोक गर्ग मौके पर पहुंचकर समझाइश दी। लेकिन ग्रामीण नहीं मानें। अंतत: जिला प्रशासन की ओर से अनुपम पाण्डेय नायब तहसीलदार सेमरिया मौके पर पहुंचे। जिन्होंने 5 हजार रुपए तत्कालीन सहायता राशि दी। साथ ही आश्वासन दिया कि हादसे में मृत परिवार को शासन की योजना अनुसार मदद दी जाएगी।

मृतक के एक पुत्र व दो पुत्री
बताया कि मृतक भाजपा कार्यकर्ता था। उसके एक पुत्र व दो पुत्रियां है। जिनके सिर से बाप का साया उठ गया है। प्रशासन से बच्चों के आगे के जीवन जीने के लिए मदद की गुहार लगाई गई है। आरोप लगाया कि इस मार्ग में बाहरी ट्रकों की धमा चौकड़ी रहती है। ​ये ट्रक गिट्टी आदि लोड कर यूपी की ओर जाते है। लेकिन प्रशासनिक उदासीनता के कारण एक आदमी का घर उजड़ गया।

एक एएसआई के भरोसे चौकी
सेमरिया थाना प्रभारी ने बताया कि चचाई चौकी में सिर्फ एक स्टाफ है। हाल ही में हुए तबादलों के चलते कई आरक्षक इधर से उधर हो गए है। आने वाले दिनों में व्यवस्थाएं सही हो जाएंगी। चचाई में हुए हादसे के समय एएसआई​ विभागीय कार्य से चौकी से बाहर गए हुए थे। फिलहाल पूरे मामले की जांच चल रही है। हत्यारोपी वाहन की जानकारी सेमरिया से लेकर सिरमौर तक लगे सीसीटीवी कैमरों का फुटेज तलाशा जा रहा है।

खबरें और भी हैं...