पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शिकायतों के बाद भी नगर परिषद उदासीन:मानसून पूर्व नहीं कराई सफाई, पहली बारिश में नालियों का पानी रोड पर भरा

बड़ामलहरा14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बड़ामलहरा| नाली में कचरा भरा होने से गंदा पानी बाहर बह रहा है। - Dainik Bhaskar
बड़ामलहरा| नाली में कचरा भरा होने से गंदा पानी बाहर बह रहा है।
  • बीमारियां फैलने की आशंका

नगर परिषद की उदासीनता के चलते नालियों की नियमित सफाई न होने से इनमें कचरा जमा हो गया है। मंगलवार को हुई पहली तेज बारिश के कारण इन नालियों का कचरा बाहर आ गया। मंगलवार दोपहर करीब 2 बजे से हुई जोरदार बारिश से नगर के वार्ड क्र. 11 में सिंचाई विभाग कार्यालय के ठीक सामने की गली में नालियों की सफाई न होने से घरों के दरवाजों पर पानी भर गया है। बारिश के पानी के इस भराव से न केवल मच्छर पनपने की आशंका बढ़ गई है। बल्कि संक्रामक बीमारियों के फैलने की भी प्रबल आशंका बढ़ गई है।

नगर के वार्ड नंबर 11 के लोगों द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से नगर परिषद को लगातार एक महीने बंद नालियों की सफाई तथा पत्थरोंं से भरी नाली के फोटो प्रमाण सहित जानकारी दी जा रही है। वार्ड के लोगों द्वारा नगर परिषद के अमले को मौके पर भी दिखाया गया लेकिन इस ओर नगर परिषद द्वारा ध्यान न दिये जाने से देर से हुई पहली बारिश ने ही कलई खोल कर रख दी। गौरतलब है कि सोमवार को नगर परिषद के सभाकक्ष में आयोजित की गई शांति समिति की मीटिंग के दौरान अगले दिन से ही नालियों की सफाई के निर्देश एसडीएम विकास कुमार आनंद ने दिए थे।

इसके बावजूद भी नगर परिषद ने गंभीरता से नहीं लिया। सवाल इस बात का भी उठता है कि जब यह काम नगर परिषद का है तो नगर परिषद को तो जिम्मेदारी के साथ पहले निपटा देना चाहिए। आखिर एसडीएम को निर्देशित करने की जरूरत क्यों पडी। इस बात को लेकर भी बुद्धिजीवी गहरे अचरज में हैं कि एसडीएम के निर्देश को ही तवज्जो नहीं दी तो आम आदमी की बात नगर परिषद क्या सुनेगी।

खबरें और भी हैं...