गांव का नाम रोशन किया:10 साल की निर्जला ने भोपाल में कराते प्रतियोगिता में गोल्ड मैडल जीता

बल्देवगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जनपद क्षेत्र के एक छोटे से गांव धर्मपुरा की बेटी ने कराते प्रतियोगिता में पहला स्थान हासिल कर गांव का नाम रोशन किया है। दरअसल बल्देवगढ़ जनपद के ग्राम धर्मपुरा निवासी अशोक कुमार बरार 6 साल पहले अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा दिलाने के लिए भोपाल चले गए थे। जहां उन्होंने प्राइवेट स्कूल में काम कर अपनी बच्चियों का दाखिला शासकीय उमावि नरेला शंकरी में कराया।

साथ ही अपनी बेटी को कराते की ट्रेनिंग दिलवाई। जिला स्तरीय प्रतियोगिता में अशोक बरार की 10 साल की बेटी निर्जला बरार ने पहले स्थान पर रहते हुए गोल्ड मैडल हासिल किया। निर्जला बरार के मामा रवि वंशकार ने बताया कि उसकी भांजी बचपन से ही प्रतिभाशाली थी। उन्होंने बताया कि 2019 में भाेपाल में जिला स्तरीय प्रतियोगिता में भी प्रथम स्थान और गोल्ड मैडल मिला था।

इसके अलावा 2020 में राज्य स्तर की प्रतियोगिता में भी निर्जला ने प्रथम स्थान हासिल करते हुए गोल्ड मैडल प्राप्त किया था। ऐसे में एक बार फिर 2021 की भोपाल में आयोजित जिला स्तरीय कराटे प्रतियोगिता में निर्जला बरार ने प्रथम स्थान हासिल करते हुए गोल्ड मेडल प्राप्त कर टीकमगढ़ जिले का नाम रोशन किया।

खबरें और भी हैं...