पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

70 घंटे बाद मिला शव:घर जाने से पहले बांध से मछली निकालने उतरा था कर्मचारी

बल्देवगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बुडेरा थाना क्षेत्र के बान सुजारा जलाशय में मछली पकड़ने गए व्यक्ति का शव 70 घंटे बाद बरामद हो गया है। मृतक बिहार राज्य का रहने वाला है। जिसके शव को उसके साथी अपने साथ बिहार ले गए। दरअसल बान सुजारा में मत्स्याखेट 15 जून से 15 अगस्त तक के लिए प्रतिबंधित करने की तैयारी चल रही थी और बान सुजारा में करीब 2 माह से ठेकेदार के यहां कार्यरत सुधीर साहनी व भानु साहनी अपने घर बिहार जाने के लिए तैयार थे।

उसी समय 15 जून को सुबह 10 बजे के करीब ठेकेदार से अनुमति लेकर अपने घर ले जाने के लिए मछली निकालने की दोनों ने अनुमति ली। दोनों बांध में मछली पकड़ने चले गए। आधे घंटे में भानु साहनी बांध से वापस आ गया, लेकिन सुधीर साहनी गहराई में जाने के बाद वापस नहीं आया, इस पर भानु ने बान सुजारा के ठेकेदार को जानकारी दी।

ठेकेदार ने घटना की सूचना बुडेरा थाना पुलिस को दी। जिस पर बुडेरा पुलिस द्वारा स्थानीय मछुआरों व ग्रामीणों की मदद से मौके पर पहुंचकर रेस्क्यू कर सुधीर साहनी निवासी बादलपुरा सुल्तानपुर जिला शिवहर पहेलियां बिहार को खोजने की कोशिश की, लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी तो उन्होंने जिला मुख्यालय से होमगार्ड की रेस्क्यू टीम को बुलाया।

करीब 12 घंटे की मशक्कत के बाद भी सुधीर साहनी को खोजने में टीम नाकाम रही। 17 जून को बान सुजारा कि बिल राय डूंगरपुर एरिया में सुजारा बांध की रखवाली करने वालों ने शव को पानी में उतराते हुए देखा तो ठेकेदार को सूचना दी। जिस पर शव को बाहर निकालकर बड़ागांव धसान भेजकर पीएम कराया गया। बान सुजारा बांध के ठेकेदार नसीम खान ने सुधीर साहनी के साथी को एक प्राइवेट वाहन से मृतक के गांव बिहार भेजा और तात्कालिक राहत के रूप में 20 हजार की नगद राशि प्रदान की।

खबरें और भी हैं...