कोरोना संक्रमण / जागेश्वर नाथ धाम में गंगा दशहरा पर्व मनाया गया, पुजारी ने की आरती

Ganges Dussehra festival was celebrated in Jageshwar Nath Dham, priest performed aarti
X
Ganges Dussehra festival was celebrated in Jageshwar Nath Dham, priest performed aarti

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 05:00 AM IST

बनवार. बुंदेलखंड के तीर्थ क्षेत्र देव श्री जागेश्वरनाथ धाम में पुरातन परंपरा के अनुसार गंगा दशहरा पर्व हर वर्ष धूमधाम से मनाया जाता है। लेकिन इस बार कोरोना महामारी के कारण गंगा दशहरा पर्व सूक्ष्म रूप में मनाया गया। श्री देव जागेश्वर धाम बांदकपुर में कोरोना वायरस और लॉकडाउन के बीच इस बार एक जून को गंगा दशहरा मनाया गया। सनातन वैदिक धर्म में गंगा दशहरा का विशेष महत्व है। गंगा दशहरा का पर्व हर साल जेष्ठ शुक्ल दशमी को मनाया जाता है जो कि इस बार 1 जून सोमवार को था।

पौराणिक कथाओं में गंगा दशहरा के दिन गंगा स्नान और दान पुण्य का विशेष महत्व है। मान्यता है कि गंगा दशहरा को मां गंगा का श्रद्धा पूर्वक स्मरण मात्र से सारे पाप नष्ट हो जाते हैं। देव श्री जागेश्वर धाम के पुजारी सीतू पंडा ने बताया। मान्यताओं के अनुसार गंगा दशहरा के दिन प्रातः गंगा स्नान करना चाहिए। संभव न हो तो पास की किसी नदी या तालाब में ही स्नान करना चाहिए। 

इसके बाद भगवान की पूजा करने के साथ ही गरीबों, ब्राह्मणों को दान दक्षिणा देना चाहिए। ऐसा करने से सिर्फ अनजाने में किए गए पापों से मुक्ति मिलती है बल्कि जीवन में शांति भी आती है। भक्तों पर मां गंगा की कृपा सदैव बनी रहती है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना