परोपकार:पक्षियों को दाना-पानी देने में उत्साह दिखा रहे निस्वार्थ संगठन के सदस्य

बनवार8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सामाजिक संगठनों ने वन्य प्राणियों और मवेशियों को पीने का पानी उपलब्ध कराने का लिया संकल्प

निस्वार्थ सामाजिक संगठन के सदस्यों के द्वारा जबेरा चंड़ी चौपरा मार्ग की आसमानी माता चबूतरे के निशुल्क प्याऊ खोली गई है। जिसमें सैकड़ों राहगीर भीषण गर्मी में अपनी प्यास बुझा रहे हैं। वहीं अब संगठन द्वारा पक्षियों के लिए भी दाना-पानी उपलब्ध कराने के लिए जंगली क्षेत्र में पीने के पानी के पात्र पेड़ों पर टांगे जा रहे हैं और चिड़ियों, पक्षियों को दाना पानी की व्यवस्था की जा रही है। संगठन के सचिन मोदी ने बताया कि इस काम में अब कई लोग आगे बढ़ कर हाथ बंटाने लगे हैं। गर्मी के दिनों में दाना-पानी देने की इस छोटी सी पहल का अनेक पक्षियों को अच्छा खासा लाभ मिल जाता है।

उन्होंने ने बताया कि इस सार्थक पहल से अब पक्षी भी प्यासे नही रहेंगे, क्योंकि निशुल्क प्याऊ के पास महुआ के पेड़ पर संगठन के द्वारा पक्षियों को दाना पानी की गई है। इस परोपकारी कार्य में सहयोगी संगठन के सदस्य चक्रेश झारिया, अनिल, पिंटू, अंकित ने बताया की संगठन निरंतर इस तरह की सार्थक पहल क्षेत्र भर में करने की ओर अग्रसर हैं।

वन्य जीवों के लिए हैंडपंप के सामने गड्‌ढा खोदकर भरा पानी

अप्रैल माह में सूरज आग उगल रहा है। तापमान बढ़ने के कारण वन क्षेत्र में वन्य प्राणियों व मवेशियों को प्यास बुझाने के लिए परेशान होना पड़ रहा है। गर्मी के चलते वन क्षेत्र के जल स्त्रोत सूख गए है। जिसके चलते हाइवे से लगे वन परिक्षेत्र में वन्य जीव व मवेशियों जंगल में पानी नहीं मिलने के कारण अक्सर सड़क पार करते हुए हादसे का शिकार हो जाते हैं। यह पीड़ा जबेरा सार्वभौम श्री सिद्धेश्वर सहयोगी संगठन के सदस्यों से देखी नहीं गई।

उन्होंने वन्य जीवों व मवेशियों की प्यास बुझाने के लिए सदस्यों के दाने बाबा सिद्ध क्षेत्र में लगे हैंडपंप के सामने एक बड़ा गड्ढा खोदकर गड्ढे को पॉलीथिन से पैक करके हैंडपंप से व्यर्थं में बहने वाले जल का संचय करके पानी से पैक कर दिया गया, ताकि मवेशियों वन्य प्राणी अपनी प्यास बुझा सके और इधर उधर पानी के लिए भटकना न पड़े।

संगठन के सदस्य चंद्रभान पटेल ने बताया कि अभी वन्य जीवों व पशुओं पक्षियों को पीने के पानी की व्यवस्था की गई आगामी दिनों में ऐसे ही परोपकारी कार्य संगठन के सदस्य करते रहेंगे। जिसमें निशुल्क शीतल जल की प्याऊ भी इसी स्थान पर खोली जाएगी।

खबरें और भी हैं...