रिश्वत की मांग / नगर पारिषद का बाबू हितग्राही से पैसे लेते वीडियो में रिकार्ड

Record in the video of the Municipal Council taking money from Babu Hitgrahi
X
Record in the video of the Municipal Council taking money from Babu Hitgrahi

  • मुख्यमंत्री जनकल्याणकारी योजना में हितग्राहियों से पैसे लेते दिख रहा है बाबू

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

बारीगढ़. नगर परिषद बारीगढ़ के कार्यालय में मुख्यमंत्री जनकल्याणकारी योजना का लाभ हितग्राहियों को नहीं मिल रहा है। हितग्राही को आवेदन करने के बाद से लगातार चक्कर लगवाए जा रहे हैं। हितग्राहियों का आरोप है कि योजना के प्रभारी लिपिक के द्वारा रुपयों की मांग की जा रही है। लिपिक के कई वीडियो सामने आए हैं। इन वीडियो में राशि लेते हुए रिकार्ड किया गया है। कार्यालय में पदस्थ ब्रजेश खरे के द्वारा श्रम कार्डधारी हितग्राहियों को विवाह सहायता राशि, आकस्मिक मृत्यु पर परिवार सहायता राशि जैसी अन्य योजनाओं का संचालन किया जाता है। यह ऐसी योजनाएं है जिसमें गरीब हितग्राहियों को काफी बल मिलता है। ऐसी योजनाओं के संचालन मे लिपिक के द्वारा अनियमितताएं बरतने का का आरोप लग रहा है।
हितग्राही से पांच हजार की मांग 
बारीगढ़ के वार्ड नंबर 14 निवासी रामचंद्र अनुरागी का है, इनके परिवार मे चार बच्चे और पति-पत्नी थे। इनकी पत्नी रानी अनुरागी के नाम श्रमकार्ड भी था। पत्नी की आकस्मिक मृत्यु दो साल पहले हो गई। इस पर उन्होंने परिवार सहायता के लिए आवेदन किया। अंतेष्टि संस्कार के लिए नगर परिषद से पांच हजार रुपए भी मिले। परिवार सहायता राशि का केस भी नगर परिषद में 3 जुलाई 2019 को हो गया पर अभी तक इनको स्वीकृत राशि नहीं मिली है। रामचंद्र लगातार नगर परिषद के चक्कर काट रहे है। इनका कहना है कि खरे बाबू ने जो पांच हजार रुपये दाह संस्कार के समय दिए थे वो वह वापस मांग रहे हैं। उनका कहना है कि जब पांच हजार दे दोगे तब तुम्हारी राशि डाली जाएगी।

पांच बार जमा कर चुके फाइल फिर भी मदद नहीं मिली  
वार्ड नंबर 9 निवासी चुरामन कुशवाहा ने बताया इन्होंने अपनी बच्ची की शादी अप्रैल 2019 मे की थी शादी के पहले फार्म जमा कर दिया था। नगर परिषद मे चार-पांच बार फाइल बनवा कर जमा भी कर चुके है। पर खरे बाबू सहायता राशि डालने के नाम पर पांच हजार रुपए की मांग कर रहे है। इन्ही के बच्ची के साथ मुहल्ले में दो बच्चियों की शादी और हुई थी जिनके पैसे आ चुके है। इसी प्रकार से वार्ड नंबर 9 निवासी रामआसरे शिवहरे ने बताया कि उनकी बेटी की शादी फरवरी 2019 मे हुई थी, जिसमे मुझे 25 हजार रुपए की सहायता राशि मिली है। मेरे मुहल्ले मे ही एक दूसरी शादी हुई उन्हें 51 हजार रुपये की सहायता राशि मिली है। मैंने इसकी शिकायत भी की थी।

एसडीएम बोले-कार्रवाई करेंगे 
इस मामले में जब लवकुशनगर एसडीएम अविनाश रावत से बात की गई तो उनका कहना है कि आपके माध्यम से जानकारी मिली है। हितग्राहियों के आवेदन मिलते ही हमारे द्वारा लिपिक के खिलाफ जांच कराई जाएगी। साथ ही गड़बड़ी पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी।

नहीं मिल रही विवाह सहायता की राशि 
पुराना हाईस्कूल के पास रहने वाले रामलाल अहिरवार ने बताया कि उसने अपनी बच्ची लीला की शादी अप्रैल 2019 में की थी। इसी समय उसने विवाह सहायता राशि का फाॅर्म भी भरा था। इसमें इनकी पुत्री के पास परिचय पत्र नहीं था तो, बाबू ने इन्हें डाॅक्टर से उम्र का प्रमाण पत्र बनवाने को कहा। उन्होंने छतरपुर और गौरिहार से यह प्रमाण पत्र बनवा लिया। कई बार फाइल जमा करने के बाद भी इनका पैसा आज तक नही मिला सका।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना