पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Bina
  • 700 People Reached The Centers Where The Capacity Of 100, 150 And 200 Doses Reached, Police Were Called To Control The Crowd

टीके का टोटा:जिन केंद्रों पर 100, 150 और 200 डोज की क्षमता वहां पर पहुंचे 700 लोग, भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस बुलाई

बीना17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बीना | पुत्री शाला वैक्सीनेशन केंद्र पर टीका लगवाने लोगों की भीड़, कई लोग इस दौरान बगैर मास्क के भी। - Dainik Bhaskar
बीना | पुत्री शाला वैक्सीनेशन केंद्र पर टीका लगवाने लोगों की भीड़, कई लोग इस दौरान बगैर मास्क के भी।

बुधवार को शहर सहित ग्रामीण क्षेत्रों के 14 केंद्रों पर कोविशील्ड का पहला और दूसरा डोज लगाया गया। एक साथ दोनों डोज लगने के कारण केंद्रों पर वैक्सीन डोज की क्षमता से कई गुना लोग केंद्रों पर पहुंच गए, जिससे अव्यवस्था हुई। कई बार भीड़ और हंगामें को देखते हुए वैक्सीनेशन रोकना पड़ा। केंद्रों पर हंगामे की स्थिति को देखते हुए पुलिस बल को तैनात किया गया।

शहर एवं ग्रामीण क्षेत्र के 7-7 केंद्रों कुल 12 वैक्सीनेशन केंद्रों पर कोविशील्ड का प्रथम एवं सेकंड डोज लगाया जाना था। जिसके लिए सभी केंद्रों पर 2200 डोज दिए गए थे। लेकिन करीब 15 दिन बाद कोविशील्ड का पहला एवं सप्ताह भर बाद सेकंड डोज लगाए जाने के कारण केंद्रों पर भीड़ जमा हो गई।

हालत यह बने कि जिन केंद्रों पर 100, 150 एवं 200 डोज की क्षमता थी। वहां पर 600 से लेकर 700 लोग तक पहुंच गए। जिस कारण वैक्सीनेशन के लिए अव्यवस्था फैल गई। वैक्सीनेशन प्रभारी डॉ. अवतार सिंह यादव ने बताया कि वैक्सीन नहीं होने के कारण गुरुवार, शुक्रवार को वैक्सीनेशन नहीं होगा।

पुत्रीशाला में कई बार रोकना पड़ा वैक्सीनेशन
पुत्रीशाला स्कूल केंद्र पर वैक्सीनेशन के लिए सुबह साढ़े 9 बजे करीब 700 से अधिक लोग मौजूद थे। लेकिन जब इन्हें टोकन बांटने का प्रयास किया तो धक्का मुक्की हो गई। बाद में लाइन में खड़े हुए लोगों के हिसाब से वैक्सीनेशन किया गया। लेकिन वैक्सीनेशन कक्ष में एक दूसरे को धक्का देते हुए करीब 50 से अधिक एवं दूसरे दरवाजे से करीब 150 लोग अंदर प्रवेश कर गए। पुलिस को सूचना दी गई। सूचना मिलते ही थाना प्रभारी कमल निगवाल सहित पुलिस बल मौके पर पहुंचा और वैक्सीनेशन शुरु हुआ। इसके अलावा शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय क्रमांक 1, कृषि उपज मंडी सहित अन्य केंद्रों पर भी डोज कम और लोगों की संख्या अधिक होने के कारण हंगामे जैसे स्थिति बनी रही।

महिला की हालत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती किया
पुत्री शाला स्कूल में वैक्सीन केंद्र पर अधिक समय तक लाइन में लगी रही एक 60 वर्षीय महिला को गर्मी और उमस के कारण चक्कर आ गया और उसे केंद्र के दरवाजे पर ही उल्टियां होने लगी। बाद में महिला को दूसरे कमरे में लिटाया गया और पानी पिलाया गया। फिर उसे सिविल अस्पताल की एंबुलेंस से अस्पताल में भर्ती कराया गया।

5 दिन बाद वैक्सीनेशन, खुरई में 16 सेंटरों में 1730 लोगों का वैक्सीनेशन किया
खुरई | पांच दिन के अंतराल के बाद बुधवार काे वैक्सीननेशन के लिए नगरीय सेंटराें सहित ग्रामीण सेंटराें पर भी सुबह से ही भीड़ रही। नगरीय क्षेत्र में सुबह कूपन बांटे गए, जिन्हें कूपन नहीं मिला वह वापस लाैट गए। ललिता शास्त्री स्कूल सेंटर पर भीड़ ज्यादा हाे गई, जबकि डाेज 150 ही थे। ऐसे में वैक्सीन प्रभारी नपा स्वास्थ्य अधिकारी एमसी सक्सेना माैके पर पहुंचे, थाना प्रभारी अनूप सिंह काे बुलाया और स्थिति काे नियंत्रित किया। जिनके पास कूपन थे उन्हें वैक्सीन लगवाने काे कहा, बाकी से वापस लाैटने काे कहा गया। पं. केसी शर्मा एक्सीलेंस स्कूल सेंटर, जेवायएसएस परमार्थ अस्पताल में भी भीड़ ज्यादा हुई, यहां भी पुलिस जवान तैनात किए गए।

सिलाैधा में 80 डाेज लगना थे, गांव के लाेगाें ने काेटवार काे सुबह 8 बजे आधार कार्ड जमा कर दिए। लाेग वैक्सीन लगवाने के लिए बैठे थे, वैक्सीन डाेज कम थे और आधार कार्ड ज्यादा थे। ऐसे में लाेग हंगामा कर रहे थे, स्टाॅफ ने पुलिस भेजने की मांग की। उसके बाद पुलिस बल पहुंचा और वैक्सीनेशन हुआ। बारधा, खिमलासा सहित अन्य सेंटराें पर भी भीड़ ज्यादा थी, यहां भी स्थिति अनियंत्रित थी, जिसे पुलिस सहित अधिकारियाें ने संभाला। 1600 वैक्सीन डाेज 13 ग्रामीण सेंटराें एवं तीन नगरीय सेंटराें पर दिए गए थे। दाेपहर में में वैक्सीनेशन पूरा हाे गया, कुल 1730 लाेगाें काे काेवीशील्ड का पहला, दूसरा डाेज लगाया गया।

खबरें और भी हैं...