पौधरोपण:पाैधाें को लगाएं, उनकी देखरेख की जिम्मेदारी भी तय करें: एसडीएम

बीनाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

सेमरखेड़ी गांव में प्रकृति प्रेमी संगठन ने शासकीय स्कूल प्रांगण में पाैधरोपण कार्यक्रम के साथ-साथ रंगोली प्रतियोगिता और प्रतिभा सम्मान समारोह का आयोजन किया । जिसमें मुख्य अतिथि एसडीएम अमृता गर्ग ने दीप प्रज्वलित कर मां सरस्वती और भारत माता की फोटो पर पुष्पहार पहना कर शुभारंभ किया। उन्हाेंंने बच्चों द्वारा बनाई गई रंगोलियां देखी और बच्चों की प्रशंसा की। 
उन्हाेंने कदंब का पाैधा रोपित किया और कहा कि मानव और पर्यावरण का घनिष्ठ संबंध रहा है । शास्त्रों में देव,पितृ, गुरु और पृथ्वी इन चारों के ऋण बताए गए हैं। हमने प्रकृति से शुद्ध वायु, जल, खाद्य आदि प्राप्त किया है पर बदले में हमने उसे कुछ दिया नहीं है । हम पुनः पाैधाें को लगाएं, उनकी देखरेख की जिम्मेदारी भी तय करें। उन्हाेंने सभी बच्चों को प्रमाण पत्र के साथ-साथ पुरस्कार वितरण भी किया। सम्मान समारोह में वर्ष 2020  मे सेमरखेड़ी गांव की बेटी दीपशिखा दांगी को भी सम्मानित किया गया, दीपशिखा ने कक्षा दसवीं में प्रदेश में चौथा स्थान हासिल कर गांव का नाम प्रदेश स्तर तक पहुंचाया और यह सिद्ध कर दिया कि गांव में प्रतिभाओं की कमी नहीं है।  संगठन अध्यक्ष सीताराम ठाकुर ने कहा कि प्रतिभा को प्रमाण पत्रों की आवश्यकता नहीं होती है , प्रतिभा स्वयं प्रमाणित होती है परंतु व्यवहार जगत में प्रतिभाओं की प्रतिभा को निखारने के लिए उन्हें सम्मानित करना आवश्यक होता है। सचिव नीरज सिंह  ने कहा कि प्रतिभा सम्मान समारोह सभी गांव मे करेंगे ताकि प्रतिभाओं को और अधिक निखारा जा सके। शिक्षक चित्तर सिंह ने कहा कि पेड़ पौधे से ही सुधरेगा कल इसलिए  अधिक से अधिक पाैधे लगाएं । समाजसेवी उमेश शर्मा ने बताया कि शहरों मे तो इस तरह के आयोजन होते रहते है आपके संगठन ने गांवों मे यह कार्यक्रम करके गांवो की प्रतिभाओं को निखारने के लिए एक मंच प्रदान कर अच्छा कार्य किया है। संरक्षक गोपालसिंह ने सभी का आभार माना।  
इन प्रतिभाओं का सम्मान हुआ

यह बच्चे अपनी प्रतिभाओं के लिए सम्मानित किए गए हैं, जिनमें अन्या, खुशी, आर्या, लोकेश, आदर्श, दिव्या, पूजा, राशि, अनन्या, रिकीं, रिद्धि, वैष्णवी शामिल हैं।   कार्यक्रम में शिक्षिका मीरा ठाकुर, कृष्णा चौधरी, सोहिनी राय, शिक्षक संजीव कुमार जैन, राजेश कुमार चौबे, वीरेन्द्र सिंह, रामचरण सिंह, वीरसिंह, निरंजन सिंह, हरिशंकर, समाजसेवी उमेश शर्मा, धर्मेन्द नामदेव सहित गांव के लाेग शामिल थे।

खबरें और भी हैं...