पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रदर्शन:बढ़ती महंगाई, बंद पड़ी पैसेंजर ट्रेनों को लेकर कांग्रेस ने केंद्र सरकार को कोसा

बीना15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों से अधिक पुलिस बल मौजूद रहा। - Dainik Bhaskar
प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों से अधिक पुलिस बल मौजूद रहा।
  • नए कृषि कानून के विरोध में किसानों का रेलवे स्टेशन पर धरना दिया

तीन कृषि कानून को वापस लेने एवं बंद पैसेंजर ट्रेनों को जल्द शुरु करने की मांग को स्थानीय किसानों ने रेलवे स्टेशन पर धरना प्रदर्शन कर केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। आंदोलन को देखते हुए जीआरपी, आरपीएफ, सिटी पुलिस सहित अनुविभाग की पुलिस मौजूद रही।

हालात यह थे कि आंदोलनकारियों से अधिक पुलिस का बल रेलवे स्टेशन की सुरक्षा में दिखाई दे रहा था। किसानों ने दोपहर सवा 12 बजे से धरना प्रदर्शन शुरू किया जो एक घंटे बाद ही स्टेशन प्रबंधक को डीआरएम के नाम ज्ञापन सौंप कर समाप्त हो गया। सुरक्षा को देखते हुए रेलवे स्टेशन पर एडिशनल एसपी विक्रम सिंह परिहार, एसडीएम प्रकाश नायक सहित एसडीओ प्रिया सिंह स्टाफ के साथ मौजूद रहे।

दोपहर सवा 12 बजे पूर्व जनपद अध्यक्ष एवं किसान नेता इंदर सिंह ठाकुर के नेतृत्व में कुछ किसान नेता रेलवे स्टेशन प्रांगण पहुंचे और हनुमान मंदिर के पास बैठकर धरना प्रदर्शन कर केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। साथ ही केंद्र सरकार को कृषि कानून, महंगाई, बंद पड़ी पैसेंजर ट्रेनों सहित अन्य मांगों पर जमकर कोसा।

भारतीय किसान श्रमिक युवा अध्यक्ष भूपेंद्र ठाकुर ने कहा कि कृषि कानून किसानों के हित का कानून नहीं है। उन्होंने बताया कि मंडी बंद होने के बाद बड़े व्यापारी किसानों से मन माफिक दामों पर अनाज खरीदेंगे। इसलिए इस काले कानून का विरोध किया जा रहा है। इंदर सिंह ठाकुर ने बंद पड़ी पैसेंजर ट्रेनों पर बोलते हुए कहा कि पहले रेलवे स्टेशन हरा भरा दिखता था।

अब यहां सूनसान पड़ा रहता है। पैसेंजर ट्रेनें चल नहीं रही है। बड़ी बड़ी ट्रेनें आ रही है। यहां जो ऑटो वालों को रोजगार मिलता था। ट्रेनें नही चलने के कारण उन्हें रोजगार नही मिल रहा है। ट्रेनों के नहीं चलने के कारण जो चैत काटने के लिए मजदूर आते थे,वह भी नही आ पा रहे है। किसानों की मांग है कि बंद पड़ी सभी पैसेंजर ट्रेनों को शीघ्र चलाया जाए। महंगाई पर बोलते हुए कहा कि पैटोल के दाम 100 रुपए से ऊपर हो गए है,डीजल का रेट लगातार बढ़ रहा है।

अनुराग पटकुई ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी

उद्योग पतियों की सरकार है, जो उन्हें लाभ पहुंचाने के लिए ही बनी है। पूर्व पार्षद अभिषेक बिलगैंया ने कहा कि हम दो,हमारे दो अदानी और अंबानी के भले में लगे हुए हैं। किसान परेशान हैं जो पूरे देश का पेट भरते हैं। उन पर पानी और कांटों की बौछार की जा रही है।

उन्होंने कहा कि आंदोलन वापस नहीं लिया तो देश में आपातकालीन स्थिति बनेगी। इस दौरान धरना प्रदर्शन में जसबंत सिंह बेथनी, पीपी नायक, सीताराम, नीलेश तिवारी, गौरी शंकर पाल, सुरेंद्र सिंह, नरेंद्र सिंह ठाकुर, माखन सिंह, प्रताप सिंह, धीरज पटेल, विजय सिंह, लल्लू अहिरवार, बब्लू अहिरवार, भाव सिंह यादव, रणवीर सिंह, मेहरवान अहिरवार आदि उपस्थित रहे।

गौरतलव है कि धरना प्रदर्शन के दौरान रेलवे स्टेशन की सुरक्षा में आंदोलन कारियों से अधिक पुलिस स्टाफ था। आंदोलनकारी 50 के आसपास थे। जबकि स्टेशन की सुरक्षा में करीब 74 पुलिस कर्मी तैनात थे। आरपीएफ के 14 जवान, जीआरपी के 20 जबान एवं बीना अनुविभाग के 40 जवान तैनात थे। जिसमें आरपीएफ पोस्ट प्रभारी विपिन कुमार, थाना प्रभारी कमल निगवाल, जीआरपी थाना प्रभारी एसएन मिश्रा, खिमलासा थाना प्रभारी मीनेश भदौरिया, डीसीआई सुशील पांडे, सीटीआई आरके गोस्वामी एवं डीके लवानिया सहित अन्य उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें