पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Bina
  • Demonstration On Ambedkar Tiraha In Protest Against Agricultural Law, Demanded Removal Of FIR From Farmers

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसानों ने चेतावनी दी:कृषि कानून के विरोध में अंबेडकर तिराहा पर धरना प्रदर्शन, किसानों से एफआईआर हटाने की मांग की

बीना19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बीना | किसानों एवं कांग्रेसियों ने धरना प्रदर्शन कर एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। - Dainik Bhaskar
बीना | किसानों एवं कांग्रेसियों ने धरना प्रदर्शन कर एसडीएम को ज्ञापन सौंपा।
  • यदि मांगों को जल्द पूरा नहीं किया तो किसानों द्वारा चक्का जाम किया जाएगा

केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए तीन कृषि कानून सहित अन्य मांगों को लेकर किसानों ने शहर के अंबेडकर चौक पर केंद्र सरकार के विरोध में नारेबाजी की और धरना प्रदर्शन किया। बाद में एसडीएम प्रकाश नायक को ज्ञापन सौंपा।

साथ ही चेतावनी देते हुए कहा कि यदि किसानों की मांगों को जल्द पूरा नहीं किया गया, तो जल्द ही किसानों के द्वारा चक्का किया जाएगा। धरना प्रदर्शन सुबह 11 बजे शुरू हुआ जो दोपहर 3 बजे तक चला। किसानों के आंदोलन का सर्मथन कांग्रेस ने भी किया। धरना प्रदर्शन के दौरान एसडीओपी प्रिया सिंह, तहसीलदार संजय जैन, थाना प्रभारी कमल निगवाल सहित बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा। धरना प्रदर्शन करते हुए किसानों ने केंद्र सरकार के द्वारा जो तीन कृषि कानून बनाया गया है उसका विरोध किया साथ ही कानून बिल के विरोध में जो किसान दिल्ली में धरने पर बैठे है उनका समर्थन किया।

दिल्ली में जिन किसानों के ऊपर एफआईआर की गई है। उसे वापस लेने की मांग की गई । सोयाबीन, उड़द की फसल जो अतिवृष्टि के कारण खराब हुई है उसका जल्द ही बीमा राशि एवं राहत राशि दिलाने की मांग की। इसके अलावा कुछ दिन पहले तुषार से खराब हुई मसूर एवं चना की फसल का सर्वे कर मुआवजा दिलाने की मांग रखी। बीना सिंचाई परियोजना का लाभ भानगढ़ सर्किल को भी पहुंचाने की मांग की। किसानों ने कहा कि जो क्षेत्र छूट गया है।

वहां नहर डाल कर किसानों को लाभ पहुंचाया जाए। किसानों ने एक ओर मांग रखी कि प्रधानमंत्री ने कहा था कोरोना काल में क्रेडिट कार्ड पर कोई ब्याज नहीं लगेगा। लेकिन बैंकों के द्वारा किसानों से ब्याज लिया जा रहा है। उसे माफ किया जाए। मुख्यमंत्री किसान सम्मान निधि के चार हजार रुपए किसानों के खातों में नहीं डाले जा रहे हैं। जिन्हें शीघ्र ही किसानों के खातों में डाला जाए। मांगों को रखते हुए चेतावनी दी गई कि अगर यह मांग जल्द पूरा नही की गई तो किसान सड़कों पर उतर आंदोलन करेगा। सड़कों पर जाम लगाकर आंदोलन किया जाएगा।

किसान नेता इंदर सिंह ठाकुर ने बताया कि यह कानून किसान विरोधी कानून है। जिसे जल्द ही वापस लिया जाए। इसके अलावा उन्होंने कहा कि स्थानीय स्तर पर भी किसान युवाओं एवं बेरोजगारों को रिफाइनरी में रोजगार नहीं मिल रहा है। रिफाइनरी के द्वारा कंबल देकर उन्हें संतुष्ट करने का कार्य किया जा रहा है। जसंबत सिंह बेथनी ने बताया कि किसान अपना अनाज कहीं भी बेंच सकते हैं, यह तो नियम पहले से है। लेकिन मंडी बंद हो जाने के बाद जो भी उद्योगपति अनाज खरीदेगें और अनाज में दाे प्रतिशत से भी अधिक तेवड़ा मिलने पर वह अनाज नहीं खरीदेगें बाद में किसानों को अपने अनाज को औने पौने दाम में खरीदना पड़ेगा। जिससे किसानों को नुकसान होगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें