पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Bina
  • Farmers Did Not Get Compensation Even After 10 Years Of Submerging Agricultural Land In Jalandhar Village Reservoir.

कार्रवाई:जालंधर गांव के जलाशय में कृषि भूमि डूब में आने के 10 साल बाद भी किसानों को मुआवजा नहीं मिला

जरुआखेड़ा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कलेक्टर, एसडीएम, तहसीलदार से शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं

सुरखी विधानसभा क्षेत्र के राहतगढ़ तहसील के अंतर्गत आने वाली जालंधर मौजा के बेरखेड़ी नानऊ के किसानों को जालंधर जलाशय कृषि भूमि डूब में आने के बाद भी शासन के द्वारा मुआवजा नहीं दिया गया। जिससे किसान आक्रोशित हैं। जालंधर जलाशय शासन के द्वारा वर्ष 2010 में निर्माण कार्य कराया गया था। जिसमें जालंधर समेत बेरखेड़ी नानऊ कि किसानों की जमीन डूब में आ गई थी। जिसके चलते शासन ने किसानों को मुआवजा राशि तत्कालीन पटवारी व तहसीलदार की मिलीभगत से वितरित कराई गई थी। जिसमें क्षेत्र के प्रभावशाली किसानों को ज्यादा मुआवजा राशि एवं गरीब किसान व हरिजनों को कम मुआवजा राशि दी गई। विधवा कृषक गेंदा रानी पटेल ने बताया कि मेरी यहां पर 5 एकड़ जमीन है और जलाशय निर्माण हुए 10 साल हो चुके हैं लेकिन मुझे आज तक शासन से मुआवजा नहीं मिला है।

मेरी 3 एकड़ जमीन डूब में आ रही है। मैंने कई बार अधिकारियों से शिकायत की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। वहीं पीड़ित किसानों ने मंत्री गोविंद सिंह से मांग की है कि उनकी शिकायत पर ध्यान दिया जाए एवं एसडीएम तहसीलदार से मौके का निरीक्षण करवा कर हम गरीब किसानों को उचित मुआवजा दिलाया जाए। जब इस संबंध में भाजपा नेता सुधीर यादव से बात की तो उन्होंने कहा कि मैं तत्काल गांव का दौरा करूंगा और पीड़ित किसानों को न्याय दिलाऊंगा।

निरीक्षण करवाया था, एसी कोई जमीन डूब में नहीं है
किसानों के द्वारा 2 वर्ष पूर्व शिकायत की गई थी जिस पर एसडीएम ने टीम गठित कर मौका स्थल का निरीक्षण करवाया गया था। टीम ने कलेक्टर एसडीएम को रिपोर्ट में कहा था कि मौके स्थल पर कोई भी जमीन डूब में नहीं पाई गई जिसके चलते उनकी शिकायत निरस्त कर दी गई थी। - आरएस शर्मा, उपयंत्री

चुनाव के बाद मुआवजा दिलाने की कोशिश करूंगा
मुझे इसकी कोई जानकारी नहीं है चुनाव के बाद एक बार फिर से इन किसानों के आवेदन दिला देना तो मैं जांच और कार्रवाई कर उक्त किसानों को उचित मुआवजा दिलाने की कोशिश करूंगा। - आदर्श जैन, नायब तहसीलदार, राहतगढ़

खबरें और भी हैं...