पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लेटलतीफी:तीन साल में भी पूरा नहीं हुआ अंडर ब्रिज का काम, बारिश बाद भी काम शुरू नहीं

बीना8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बारिश के पहले ट्रैक पर गडर डालकर निर्माणाधीन अंडरब्रिज मिट्टी, मुरम से ढक दिया था

बीना-सागर रेलवे ट्रैक पर सागर गेट के पास निर्माणाधीन अंडरब्रिज को बारिश शुरू होने के कारण 9 जून को मिट्टी, गिट्टी एवं मुरम भर कर ढक दिया गया था। जिसका कार्य बारिश के बाद फिर से शुरू किया जाना था। लेकिन बारिश समाप्त होने के बाद अंडरब्रिज का काम शुरू नही किया गया है। अंडरब्रिज का काम लेट होने से लोगों को परेशानी हो रही है। क्योंकि अंडरब्रिज का कार्य करीब 3 साल से प्रभावित हो रहा है और लोगों को आवागमन में परेशानी हो रही है। गेट बंद होने पर लोगों को कई समय तक धूप, बारिश एवं सर्दी में खड़े होकर गेट का इंतजार करना पड़ता है। लेकिन अंडरब्रिज के शुरू होने से लोगों को गेट से निजात मिल जाएगी। स्थान परिवर्तन के बाद ईमली वाली दरगाह के पास अंडरब्रिज निर्माण का कार्य जून माह में शुरू किया गया। जिसमें 9 घंटे का ब्लॉक लेकर तेज धूप और गर्मी के बीच रेलवे लाइन को अलग कर 26 मीटर लंबे 2 गडर अप-डाउन ट्रैक पर बड़ी-बड़ी क्रेनों के द्वारा रखे गए।

कार्य के दौरान कई घंटे रेल यातायात बंद रहा। गडर रखने के बाद कुछ दिन तक रेलवे लाइन के नीचे खुदाई कर पूर्व से बन कर तैयार रखे 42 सीमेंट के बाक्सों को रखकर 2 भाग में अंडर ब्रिज का निर्माण कार्य किया गया। यह कार्य करीब 1 सप्ताह तक चला था। लेकिन बारिश शुरू होने के कारण अंडरब्रिज का काम बीच में ही रोक दिया गया। साथ ही अप्रिय घटना को रोकने के लिए रेलवे ट्रैक के नीचे अंडरब्रिज के लिए रखे गए बाक्सों को मिट्टी, गिट्टी एवं मुरम आदि भरकर बंद कर दिए गए। जिसका कार्य पुनः बारिश के बाद शुरू होना था। लेकिन बारिश समाप्त होने के बाद भी अंडरब्रिज निर्माण का कार्य शुरू नहीं हुआ है।

दोनों ओर बनाया जाना है मार्ग
जानकारी के अनुसार रेलवे ट्रैक के नीचे खुदाई कर बाक्स तो लगा दिया। लेकिन ट्रैक के दोनों और पहुंच मार्ग का निर्माण अभी किया जाना है। एक ओर रेलवे ट्रैक से रेलवे बायपास एवं दूसरे तरफ रेलवे ट्रैक से स्टेशन मार्ग तक अंडरब्रिज पहुंच मार्ग का निर्माण कार्य किया जाना है। मार्ग के बनते ही अंडरब्रिज शुरू हो जाएगा। जिससे शहर के हजारों लोगों को सागर गेट से मुक्ति मिल सकेगी।

तीन साल से अटका काम
सागर रेलवे ट्रैक पर करीब 3 साल पहले अंडरब्रिज का काम पूरा हो जाना था। लेकिन पहले इस अंडरब्रिज का निर्माण कार्य शास्त्री वार्ड स्थित नई सब्जी मंडी के पास होना था। जिसके लिए तैयारी पूरी कर ली गई थी। अंडरब्रिज में लगने वाले बाक्सों को बना कर तैयार कर लिए गए थे। अंडरब्रिज के लिए जमीन का भी सीमांकन का कार्य भी पूरा हो गया था। लेकिन स्थानीय लोगों एवं व्यापारियों ने इस बात का विरोध करते हुए कहा कि गेट बंद होने के बाद यहां के लोगों को करीब 1 किमी का चक्कर काटकर आना-जाना पड़ेगा। जहां अंडरब्रिज बनाया जा रहा है, वहां पास ही ओवरब्रिज का निर्माण भी किया जा रहा है।

जिस कारण अंडरब्रिज का निर्माण सागर गेट के आसपास किया जाए। इस संबंध में स्थानीय लोगों ने रेलवे के आला अफसरों से लेकर कई जन प्रतिनिधियों से शिकायत की बाद में अंडरब्रिज का स्थान बदल कर सागर गेट के पास चयनित किया गया और इस साल जून माह में अंडरब्रिज का काम शुरू किया गया। लेकिन बारिश शुरू होने के बाद उसे बीच में ही रोकना पड़ा। इस संबंध में चीफ आईओडब्ल्यू सुनील देशमुख का कहना है कि यह अंडरब्रिज अपने पास नही है यह कंस्ट्रक्शन विंग के पास है।

खबरें और भी हैं...