पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

महंगाई की मार:100 पार हुआ पेट्रोल, आम नागरिकों पर एक और बोझ; वर्ष 2021 के बीते पांच महीने में पेट्रोल के दामों में 9 रुपए का हुआ इजाफा

छतरपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हर सप्ताह पेट्रोल की कीमतों में हो रहे बदलाव के चलते शुक्रवार को पेट्रोल के दाम 100 रुपए के पार हो गए हैं। लगातार पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतें आम नागरिकों पर एक बार फिर बोझ बनकर सामने आई हैं। पेट्रोल की बढ़ती कीमतों में राज्य का टैक्स शामिल है। जिससे लगातार पेट्रोल के भाव चढ़ते जा रहे हैं। वर्ष 2021 के पांच महीनों में देखें तो पेट्रोल-डीजल कीमत पर 9 रुपए की इजाफा कर दिया गया है। लगातार पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ते जा रहे हैं। एक ओर आम नागरिकों के गले में कोरोना महामारी फंसी हुई है।

वहीं दूसरी ओर मंहगाई की मार झेलनी पड़ रही है। इस बार सबसे ज्यादा बढ़ोत्तरी डीजल-पेट्रोल पर की गई है। बढ़ती कीमतों ने लोगों का बजट बिगाड़ दिया है। पेट्रोल व डीजल की आसमान छूती कीमतों पर अब कोई नियंत्रण नहीं है। मप्र सरकार बेतहाशा टैक्स लगाकर लोगों की कमर तोड़ रही है। इसमें न आम लोगों को राहत दी जा रही है। ऐसे लोगों को पेट्रोल का खर्च निकालना मुश्किल होगा। इसका मुख्य कारण है कि सरकार वैट, एडिशनल ड्यूटी और सेस ज्यादा लगा रही है।

अप्रैल में डेढ़ रुपए घटाकर दी राहत
सरकार द्वारा मार्च में बजट पेश होने पर अप्रैल में डीजल व पेट्रोल पर डेढ़ रुपए घटाकर लोगों को राहत दी थी। जिससे लोगों को लगा कि फिलहाल पेट्रोल-डीजल के दाम अभी स्थिर रहेंगे, लेकिन यह एक माह भी नहीं चल सका। मई लगते ही पेट्रोल और डीजल दोनों पर रेट बढ़ा दिए गए। अब 100 से नीचे पेट्रोल के रेट आना मुश्किल होगा।

5 माह में ऐसे बढ़े डीजल-पेट्रोल के दाम

वर्ष 2021 में देखें तो पांच महीनों के हर सप्ताह में डीजल-पेट्रोल के दामों पर बढ़ोत्तरी होती रही है। लगातार इजाफा होने से मई में ही पेट्रोल 100 के पार और डीजल 90 के पार पहुंच गया है। पंप के मैनेजर सुधीश गुप्ता ने बताया कि राज्य द्वारा लगातार वैट लगने से मंहगा दिया जा रहा है। जिससे हर महीने डीजल-पेट्रोल के रेटों में इजाफा हो रहा है। डीजल-पेट्रोल के आंकड़े ओरछा पेट्रोल पंप के अनुसार।

खबरें और भी हैं...