कोरोना में थोड़ी राहत / 21 से 31 मई के बीच मिले थे 25 कोरोना संक्रमित, 21 से 30 जून के बीच सिर्फ आठ

25 coronas were found between 21 and 31 May, only eight between 21 and 30 June
X
25 coronas were found between 21 and 31 May, only eight between 21 and 30 June

  • प्रवासी मजदूराें के आने के बाद बढ़ा संक्रमण अब नियंत्रण में आने लगा

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

छतरपुर. जिले में 19 मई से मंगलवार की देर शाम तक 59 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इसमें से अधिकांश मरीज कोविड सेंटर या जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में सामान्य रूप से भर्ती रहे और स्वास्थ होकर अपने घर चले गए। अब तक की स्थिति को देखा जाए तो मई के आखिरी दस दिनों में जहां 25 कोरोना मरीज सामने आए थे वहीं जून के आखिरी दस दिनों में सिर्फ 8 मरीज पॉजिटिव पाए गए हैं। इस प्रकार कोरोना से मई के मुकाबले जून में थोड़ी राहत दिखाई दे रही है। 
 दूसरी ओर पिछले दिनों नौगांव क्षेत्र के लुगासी अस्पताल का डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव पाया गया। जिसकी दो दिनों से हालत बिगड़ी हुई है, इस कारण उसे नौगांव सेंटर से जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट किया गया है। बता दें कि 24 जून की शाम रिपोर्ट आने पर नौगांव क्षेत्र के लुगासी अस्पताल में पदस्थ डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव पाया गया। यह डॉक्टर पिछले दिनों उप्र में राठ कस्बे से होकर नौगांव लोटा था। जिसे सर्दी, खांसी के साथ बुखार आने पर 22 जून को सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा, जिसमें यह पॉजिटिव पाया गया। 
इन्हें नौगांव के कोविड सेंटर में भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया। पर 27 जून की सुबह हालत बिगड़ने पर उसे जिला अस्पताल स्थित आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट किया गया। मरीज को ऑक्सीजन लगाई जा रही है।

18 मई  तक छतरपुर में एक भी मरीज नहीं था

जिले में 18 मई तक एक भी मरीज नहीं था, प्रवासी मजदूरों के आने के कुछ समय बाद 19 मई को एक साथ 2 युवक कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के साथ ही जिले में मरीजों की शुरुआत हुई। मई माह में कुल 27 मरीज मिले। 21 मई से 31 मई के बीच कोरोना वायरस से संक्रमित 25 लोग पाए गए। इसके बाद संख्या घटना शुरू हो गई। 1 से 10 जून तक 14 पॉजिटिव, 11 से 20 जून तक 10 पॉजिटिव और 21 से 30 जून तक 8 लोग ही इस बीमारी से संक्रमित पाए गए। अभी तक पाए गए 59 मरीजों में से 54 स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं।

 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना